उधमसिंह नगर के रुद्रपुर में दिनेशपुर रोड पर प्रापर्टी डीलरों ने सिडकुल द्वारा बनाए निकासी नाले तोड़ने और सड़क खोदने के मामले में सिडकुल की कार्यदायी संस्था ने दिनेशपुर थाने में शिकायत दी है। पुलिस ने कार्यदायी संस्था की शिकायत पर जांच शुरू कर दी है।

दूसरी ओर जिला प्रशासन ने अभी तक अवैध कॉलोनियों में कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की है। प्रशासन ने सरकारी निर्माण तोड़ते हुए जिस जेसीबी को पकड़ा था, उसका भी अभी तक कोई पता नहीं है। वहीं एसडीएम भी मामले में टालमटोल का रवैया अपनाए हुए हैं।

दिनेशपुर रोड पर कॉलोनाइजरों ने दबंगई दिखाते हुए सिडकुल द्वारा सड़क के दोनों तरफ बनाए नाले को कई जगह से तोड़ दिया था। वहीं कई जगह से नवनिर्मित सड़क को भी जेसीबी से उखाड़ दिया। प्रशासन ने छापा मारकर सरकारी निर्माण तोड़ते हुए जेसीबी को सीज कर चौकी में खड़ा कर दिया है।

लेकिन प्रॉपर्टी डीलर ऊंची पहुंच के चलते, बिना जुर्माना दिए जेसीबी को छुड़ा ले गए। वहीं इस मामले में प्रशासन ने अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। लेकिन स्थानीय मीडिया में मामले की खबर आने पर मामले को देखते हुए सिडकुल ने जरूर कार्रवाई की है।

सिडकुल की नाला बनाने वाली कार्यदायी संस्था पीआरएल प्रोजेक्ट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर के प्रोजेक्ट मैनेजर ने दिनेशपुर रोड के सात कॉलोनाइजरों के खिलाफ दिनेशपुर थाने में शिकायत सौंपी है। जिसमें सात कॉलोनाइजरों के ऊपर नाला और सड़क तोड़ने का आरोप लगाया गया है।

उधर सिडकुल के आरएम गौरव चटवाल ने बताया कि यह मार्ग और नाला सिडकुल द्वारा बनाया जा रहा है। इसकी कार्यदायी संस्था पीआरएल प्रोजेक्ट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर है, इसलिए उक्त कंपनी द्वारा ही दिनेशपुर थाने में शिकायत दी गई है।