योग गुरु बाबा रामदेव के हरिद्वार स्थित फूड पार्क में एक मजदूर की मौत के बाद ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया। हंगामे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने भी ग्रामीणों के साथ मारपीट की।

ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस ने उनके घरों में घुसकर मारपीट की। इतना ही नहीं, ग्रामीणों का कहना है कि पुलिसवालों ने उनके साथ बदसलूकी की और घरों में तोड़-फोड़ भी की। आरोप है कि पुलिसिया बर्बरता में कई लोग बुरी तरह घायल हो गए हैं।

बता दें कि हरिद्वार स्थित बाबा रामदेव के पतंजलि फूड पार्क में बुधवार को फूड पार्क में एक मजदूर की मशीन में आने से मौत हो गई थी।

मृत मजदूर का नाम मोनू बताया जा रहा है और वह रायसी हरिद्वार का रहने वाला है। घटना बुधवार रात 9.30 बजे की बताई जा रही है। मजदूर की मौत से गुस्‍साए मजदूरों ने लक्सर-हरिद्वार मार्ग को पूरी तरह से जाम कर दिया था।

बता दें कि हरिद्वार फूड एंड हर्बल पार्क में पुलिसिया कार्रवाई के बाद भीड़ काबू से बाहर हो गई। गुस्‍साए लोगों ने हर्बल पार्क पर पथराव भी किया। हालात बिगड़ते देखकर इलाके की पुलिस ने कई थानों से अतिरिक्‍त फोर्स को मंगवा ली।

मजदूर की मौत के बारे में भी कोई जानकारी नहीं मिल पा रही है। ये भी नहीं पता चल पा रहा है कि कैसे मशीन से मजदूर की मौत हो गई है और इसमें किसकी गलती है।