अब आधा किराया देकर करें देहरादून से केदारनाथ की हेलीकॉप्टर यात्रा

उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून से केदारनाथ की यात्रा के लिए हेलीकॉप्टर सेवा की शुरुआत हो चुकी है। सहस्रधारा हैलीपैड से गढ़वाल मंडल विकास निगम द्वारा यात्री हैलीकॉप्टर रवाना किया गया। केदारनाथ की यात्रा के लिए हैलीकॉप्टर कंपनियां मनमाना किराया वसूलती थी। अब राज्य सरकार ने 50 फीसदी की सब्सिडी पर हैलीकॉप्टर सेवा शुरू की है।

केदारनाथ धाम की यात्रा के लिए देहरादून से हेलीकॉप्टर सेवा की शुरुआत हो गई है। रविवार को सहस्रधारा हैलीपैड से एक यात्री परिवार को लेकर हैलीकॉप्टर ने उड़ान भरी। केदारनाथ धाम के लिए यात्रियों को हैलीकॉप्टर सेवाएं अब गढ़वाल मंडल विकास निगम के जरिए हासिल होंगी। इससे यात्रियों को हैलीकॉप्टर कंपनियों को मनमाना किराया नहीं देना पड़ेगा, क्योंकि राज्य सरकार ने नागरिक उड्डयन विभाग के जरिए केदारनाथ यात्रियो को 50 फीसदी की सब्सिडी पर टिकट उपलब्ध कराने का फैसला लिया है।

सह्स्रधारा हेलीपेड से जीएमवीएन के उपाध्यक्ष विशाल डोभाल ने हैलीकॉप्टर से केदारनाथ जाने वाले यात्री परिवार को रवाना किया। इस मौके पर जीएमवीएन के कई अफसर भी मौजूद रहे। जीएमवीएऩ के एमडी सी. रविशंकर का कहना है कि जीएमवीएऩ द्वारा सब्सिडी पर पर्यटकों के लिए हिमालय दर्शन योजना की शुरुआत की गई थी, जिसके सकारात्मक परिणाम आने से उत्साह बढ़ा है।

एमडी का कहना है कि केदारनाथ के लिए सस्ती हवाई सेवा से ना सिर्फ तीर्थ यात्रियों को लाभ होगा बल्कि इससे शीतकालीन तीर्थाटन और पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। जीएमवीएन के उपाध्यक्ष विशाल डोभाल भी कहते हैं कि केदारनाथ के लिए सस्ती हवाई सेवा मुहैया कराने के मुख्यमंत्री हरीश रावत का सपना भी पूरा हुआ है।

हेलीकॉप्टर से कम कीमत पर केदारनाथ की यात्रा करने वाले यात्रियों ने केदारनाथ पहुंचकर न केवल केदारनाथ मंदिर के दर्शन किए बल्कि सरकार की तरफ से यात्रियों के लिए किए जा रहे कार्यों को भी करीब से देखा। देहरादून से केदारनाथ के लिए उड़ान भरने और केदारनाथ से दर्शन करके वापस लौटने में यात्री परिवार को करीब 3 घंटे का समय लगा। केदारनाथ से लौटकर यात्रियों ने कहा कि शीतकाल में केदारनाथ धाम के कपाट बंद होने के चलते उनको केदार बाबा के दर्शन तो नहीं हुए लेकिन उन्होने मंदिर के दर्शन जरूर किए।

सब्सिडी देकर सस्ते में यात्रियों के लिए हेलीकॉप्टर सेवा उपलब्ध कराने और केदारनाथ में हुए कार्यों को लेकर यात्रियों से सराहना की। केदारनाथ की यात्रा पर योजना के पहले दिन ही यात्रा करने वाले राहुल भाटिया और उनकी पत्नी सोनल भाटिया कहते हैं कि सरकार ने कम कीमत में केदारनाथ यात्रा की जो सुविधा दी है उससे निश्चित रूप से यात्रियों को काफी राहत पुहंचेगी।

क्योंकि अभी तक हेलीकॉप्टर कंपनिया तीर्थ यात्रियों से मनमाने तरीके से 40 से 50 हजार रुपये किराया वसूल करती रही हैं। राज्य सरकार द्वारा पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए शुरू की गई हिमालय दर्शन योजना को सफल माना जा रहा है। इससे उत्साहित होकर राज्य सरकार ने अब केदारनाथ धाम के लिए यात्रियों को सस्ती हेलीकॉप्टर सेवा मुहैया कराई है।

माना जा रहा है कि इससे न सिर्फ यात्रा सीज़न में तीर्थ यात्री सुविधायुक्त यात्रा कर पाएंगे, बल्कि इससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।