दिल्ली से नेपाल की राजधानी काठमांडू जाने वाला स्पाइसजेट का एक विमान सोमवार को बम होने की धमकी मिलने के बाद आईजीआई एयरपोर्ट पर रोक दिया गया। धमकी के तुरंत बाद यात्रियों और चालक दल के सदस्यों को विमान से बाहर निकाल लिया गया। पूरे विमान की तलाशी लेने के बाद शाम पांच बजे उसे काठमांडू के लिए रवाना कर दिया गया।

जानकारी के मुताबिक, स्पाइसजेट की उड़ान संख्या 9W 260 इंदिरा गांधी एयरपोर्ट से 1.25 बजे उड़ान भरने वाली थी। इसमें 104 यात्री और चालक दल के सात सदस्य सवार थे। उसी समय एक अज्ञात शख्स ने पुलिस को फोन करके बताया कि विमान में सीट संख्या 18 के नीचे बम रखा हुआ है।

पुलिस उपायुक्त दिनेश कुमार गुप्ता ने बताया कि सोमवार को 12.55 बजे पर एक शख्स ने कॉल करके कहा कि सीट संख्या 18 के नीचे एक गिफ्ट बॉक्स रखा गया है। इसके तुरंत बाद सभी यात्रियों को सुरक्षित विमान से बाहर निकाल लिया गया। विमान की सघन तलाशी ली गई। इसमें कुछ भी बरामद नहीं हुआ।

एक अज्ञात नंबर से आई कॉल में कहा गया कि दो फरवरी से पहले मुंबई एयरपोर्ट को उड़ा दिया जाएगा। इसके बाद मुंबई शहर में अलर्ट जारी कर दिया गया है। पुलिस और बम स्क्वॉड की मौजूदगी में जांच की जा रही है।

इससे पहले अफवाह उड़ी थी कि मुंबई एयरपोर्ट अथॉरिटी को धमकी भरा एक खत भी मिला है। लेकिन पुलिस ने इसे खारिज करते हुए कहा कि एयरपोर्ट को ऐसा कोई पत्र नहीं मिला है। हालांकि पुलिस ने फोन की पुष्टि करते हुए कहा कि धमकी भरा फोन एयरपोर्ट कंट्रोल रूम के नंबर पर आया था।

जनवरी के पहले सप्ताह में भी दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी मिलने की अफवाह उड़ी थी। दावा किया गया था कि धमकी भरा फोन दिल्ली इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के गुडगांव स्थित कॉल सेंटर में आया था। इस कॉल के बाद एयरपोर्ट की सुरक्षा मजबूत कर दी गई थी।