उत्तराखंड के मनीष पांडे ने हार का क्रम तोड़कर टीम इंडिया को दिलाई जीत

सिडनी।… रोहित शर्मा और शिखर धवन से मिली शानदार शुरुआत के बाद उत्तराखंड के मूल निवासी युवा बल्लेबाज मनीष पांडे के करियर के पहले शतक की बदौलत भारत ने आखिर में हार के क्रम को तोड़ दिया।

मनीष ने ऑस्ट्रेलिया में उत्तराखंड का नाम रोशन कर दिया। आखिरी मैंच मे शतकीय पारी खेलकर मनीष पांडे मैन ऑफ़ द मैच रहे और टीम इंडिया की इस जीत में उन्होंने अपना अमूल्य योगदान दिया। रोमांच की पराकाष्ठा पर पहुंचे पांचवें और आखिरी एकदिवसीय क्रिकेट मैच में शनिवार को सिडनी में भारत ने छह विकेट से जीत दर्ज कर ऑस्ट्रेलिया की क्लीन स्वीप की मंशा पूरी नहीं होने दी।

ऑस्ट्रेलिया पहले चारों मैच जीतकर सीरीज अपने नाम कर चुका था, लेकिन उसकी निगाह क्लीन स्वीप पर टिकी थी, जबकि भारत के सामने प्रतिष्ठा बचाने का सवाल था। आखिर में सीरीज का परिणाम 4-1 से ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में रहा।

भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने टास जीतकर ऑस्ट्रेलिया को पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित किया। भारतीय गेंदबाजों ने सीरीज में पहली बार शुरू में कसी हुई गेंदबाजी की। ऑस्ट्रेलिया का स्कोर एक समय चार विकेट पर 117 रन था, लेकिन सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (113 गेंदों पर 122 रन) ने एक छोर संभाले रखा। उन्होंने मिशेल मार्श (84 गेंदों पर नाबाद 102 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिए 118 रन की साझेदारी की।

इससे ऑस्ट्रेलिया ने सात विकेट पर 330 रन का मजबूत स्कोर खड़ा किया। बड़े लक्ष्य के सामने शिखर धवन (56 गेंदों पर 78) और रोहित (106 गेंदों पर 99) ने पहले विकेट के लिए 18.2 ओवर में 123 रन जोड़कर भारत को अच्छी शुरुआत दिलायी, लेकिन वह पांडे थे जिन्होंने टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया।

कर्नाटक के इस बल्लेबाज ने विषम परिस्थितियों में 81 गेंदों पर 104 रन की नाबाद पारी खेली जिसमें आठ चौके और एक छक्का शामिल है। उन्होंने धोनी (42 गेंदों पर 34 रन) के साथ चौथे विकेट के लिए 94 रन जोड़े। भारत ने आखिर में 49.4 ओवर में चार विकेट पर 331 रन बनाकर 26 जनवरी से शुरू होने वाली टी20 सीरीज से पहले मनोबल बढ़ाने वाली जीत दर्ज की।