एसएसबी की 55वीं वाहिनी ने चंपावत, पिथौरागढ़ और उधमसिंह नगर में नेपाल सीमा पर 85 किलोमीटर के दायरे में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। आगामी गणतंत्र दिवस के मद्देनजर एसएसबी महानिदेशालय ने इस मामले में आदेश जारी किए हैं।

नेपाल सीमा पर स्थित एसएसबी के सभी 18 बार्डर आउट पोस्ट (बीओपी) में तैनात जवानों को रात-दिन गश्त के लिए कहा गया है। खासकर जौलजीबी, बलुवाकोट और झूलाघाट पुल से आवाजाही करने वालों पर विशेष नजर रखी जा रही है।

एसएसबी 55वीं वाहिनी के उपसेनानी जितेंद्र जोशी ने बताया कि गणतंत्र दिवस पर नेपाल सीमा में विशेष चौकसी बरतने और हाई अलर्ट के निर्देश मिले हैं। उन्होंने बताया कि नेपाल सीमा पर तैनात सभी जवानों को सचेत कर दिया गया है।

अवैध रास्तों से सीमा पर आने वालों के खिलाफ सख्ती बरती जाएगी। उन्होंने कहा कि सीमा की सुरक्षा के साथ किसी प्रकार का समझौता नहीं किया जाएगा। वैसे तो सीमा पर रुटीन चेकिंग जारी रहती है, लेकिन अब हाई अलर्ट के चलते इसमें ज्यादा सख्ती कर दी गई है।

एसएसबी के जवान महाकाली नदी के किनारे लगातार गश्त कर रहे हैं। झूलाघाट में तालेश्वर से लेकर कानड़ी तक, जौलजीबी से लेकर ड्योड़ा तक, बलुवाकोट से लेकर गोघाटीबगड़ तक रात-दिन गश्त लगाई जा रही है।

एसपी रोशन लाल शर्मा ने नेपाल सीमा पर स्थित सभी थानों को अलर्ट कर दिया है। पुलिस को भी एसएसबी के साथ तालमेल कर गश्त के निर्देश दिए गए हैं।