उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अर्द्धकुंभ मेले की व्यवस्थाओं को चाक चौबंद बताते हुए कहा कि राज्य सरकार केंद्र सरकार के सहयोग के बिना भी मेले को सकुशल संपन्न कराने की तमाम व्यवस्था कर चुकी है।

हालांकि अब भी उन्हें केंद्र सरकार से आर्थिक मदद मिलने की पूरी उम्मीद है। उन्होंने अर्द्धकुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को पूर्ण सुरक्षा का भरोसा दिलाया। अर्द्धकुंभ मेला सकुशल संपन्न करवाने के लिए प्रशासन की ओर से मंगलवार को आयोजित पूजा-अर्चना में भाग लेने पहुंचे मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि सभी के सहयोग और मां गंगा की कृपा से मेला सकुशल संपन्न होगा।

केंद्र सरकार पर हरिद्वार और गंगा के अपमान का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि तमाम आग्रह के बाद भी केंद्र ने बजट उपलब्ध नहीं कराया। आपदा के बाद बनी परिस्थितियों में राजजात यात्रा, चारधाम यात्रा और कांवड़ यात्रा का सकुशल आयोजन कराकर राज्य सरकार ने दुनिया को यह संदेश दिया है कि उत्तराखंड हर लिहाज से सुरक्षित है।

अर्द्धकुंभ मेला इस दिशा में और भी बड़ा संदेशवाहक बनने वाला है। जगह-जगह टूटे पड़े राष्ट्रीय राजमार्ग को लेकर चिंता जताते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से इस बारे में बात की है। उम्मीद है कि मार्च तक राजमार्गों को ठीक करा दिया जाएगा। वे इसके बारे में फिर भी बात करने जाएंगे।