आखिरकार उत्तराखंड सरकार को शहीद भगवती प्रसाद भट्ट के बलिदान याद आ ही गई। मंगलवार को स्वयं मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पिछले दिनों दिल्ली में बीएसएफ के विमान दुघर्टना में शहीद हुए रूद्रप्रयाग जिले के निवासी पॉयलट भगवती प्रसाद भट्ट के सहस्त्रधारा रोड़, देहरादून स्थित निवास पर जाकर उनकी पत्नी स्वात‌ि भट्ट को दो लाख रुपये का चेक दिया।

मीडिया में पिछले कई दिनों से राज्य सरकार की उपेक्षा की खबरें छप रही थीं, जिस पर आखिरकार हरीश रावत सरकार ने सुध ली। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ केदारनाथ के विधायक, संसदीय सचिव शैलारानी रावत, वरिष्ठ कांग्रेस नेता शिवानी मिश्रा आदि मौजूद थे।

बता दें कि शहीद की पत्नी स्वाति भट्ट ने पिछले दिनों उत्तराखंड सरकार को कटघरे में खड़ा किया था। स्वाति ने सरकार पर उपेक्षा का आरोप लगाते हुए दुखी मन से बताया था कि हादसे में शहीद हरियाणा के एक पायलट और एक अन्य अधिकारी के परिजनों को वहां की सरकार ने नौकरी के साथ आर्थिक सहायता देने का भरोसा दिया है। जबकि एक सप्ताह बीतने के बाद भी यहां पर कोई सुध लेने भी नहीं आया। स्वाति सरकार के रवैये से बेहद आहत दिखीं थीं।