सांकेतिक तस्वीर

दुनिया में कहीं भी कोई सताए तो बेटी के पास एक ही आसरा होता है और वह दौड़ी-दौड़ी पिता के पास पहुंच जाती है। लेकिन जब बाप ही बेटी की आबरू से खेलने लगे तो इसे क्या कहें। जी हां, धार्मिक नगरी हरिद्वार में ऐसा ही एक मामला सामने आया है। अलीगढ़ से नाबालिग बेटी को हरिद्वार लाकर पिता ने उससे रेप करने की कोशिश की। बेटी की शिकायत पर हरकत में आई हरिद्वार पुलिस ने कलयुगी पिता को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना रविवार देर रात नगर कोतवाली क्षेत्र के चित्रा टाकीज वाली गली के चित्रा रेजीडेंसी होटल की है। देर रात कमरे से निकल कर बदहवास हालत में रिसेप्शन पर पहुंची बेटी ने होटल कर्मचारियों को आपबीती बताई। होटल कर्मचारियों की सूचना पर नगर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई।

पुलिस ने बेटी की शिकायत पर शराब के नशे में धुत पिता को हिरासत में ले लिया। 15 वर्षीय बेटी ने पुलिस को बताया कि उसकी मां ने साल 2011 में आत्महत्या कर ली थी। वे चार भाई-बहन हैं। वह सबसे बड़ी है और आठवीं तक पढ़ी-लिखी है। नाबालिग ने बताया कि उसका पिता दो महीने से उस पर गलत नीयत रखे हुए हैं। पहले भी उसने उसके साथ छेड़छाड़ की थी, लेकिन उस समय ताऊ-ताई ने पिता को डांट लगाई थी।

शनिवार को पिता ने उसे कहा कि शादी के लिए हरिद्वार में लड़का देखा है इसलिए, उसे हरिद्वार चलना है। रविवार को वह दोनों यहां पहुंचे। पिता ने होटल के कमरे में शराब पी। फिर उसके साथ रेप करने की कोशिश की, लेकिन किसी तरह वह बचकर रिसेप्शन तक पहुंच गई।

कोतवाली प्रभारी महेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि नाबालिग बेटी की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर पेशे से किसान पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है। नाबालिग बेटी द्वारा बाप की हैवानियत को चुप रहकर न सहने की सभी तारीफ कर रहे हैं। बेटी की हिम्मत की पुलिस ने भी दाद दी है। अगर वह भागकर रिसेप्शन तक नहीं आती तो उसके साथ अनहोनी हो जाती, लेकिन उसने हिम्मत नहीं हारी।

फिलहाल नाबालिग बेटी पुलिस की सुरक्षा में है। पुलिस ने उसके ताऊ-ताई से संपर्क साधा है। एसएसआई विद्याभूषण सिंह नेगी ने बताया कि नाबालिग को उसके परिजनों के सुपुर्द किया जाएगा। नाबालिग का मेडिकल करवा दिया है।