उत्तराखंड में कुमाऊं के पहाड़ों में न्याय के देवता कहे जाने वाले गोल्ज्यू मंदिर में शनिवार को प्रदेश के मुखिया हरीश रावत पहुंचे।

नए साल के दूसरे दिन मुख्यमंत्री ने चंपावत के ऐतिहासिक गोल्ज्यू मंदिर में माथा टेककर अपने ईष्ट देवता से आशीर्वाद लिया। मुख्यमंत्री ने मंदिर में जाकर माथे में टीका लगवाया और पूजा अर्चना भी की।

पूजा-अर्चना करने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि गोल्ज्यू पूरे उतराखंड के देवता हैं और राज्य में अलग-अलग नामों से जाने जाते हैं। साथ ही कहा कि गोल्ज्यू के आशीर्वाद के बिना कल्याण नहीं हो सकता है।