सालों से नोटों पर महात्मा गांधी की तस्वीरें छपती रही हैं, हो सकता है कि आने वाले समय में नोटों पर महात्मा गांधी की फोटो के साथ ही डॉ. बीआर अम्बेडकर और स्वामी विवेकानंद की फोटो भी छापी जाए।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय सलाहकार परिषद और अब भंग हो चुके योजना आयोग के सदस्य नरेन्द्र जाधव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपना यह सुझाव दिया है। यदि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस प्रस्ताव का समर्थन किया तो आने वाले समय में भारत के नोट कुछ बदले-बदले दिखेंगे।

इकोनॉमिक्स टाइम्स के अनुसार जाधव का कहना है कि उनका सुझाव माना जाएगा या नहीं, यह तो समय बताएगा। लेकिन, सरकार की तरफ से डॉ. अम्बेडकर के नाम पर सिक्का तो जारी कर दिया गया है। जाधव का कहना है कि 1996 से पहले नोटों पर महात्मा गांधी और अशोक चक्र की तस्वीर रहती ही थी।

नरेंद्र जाधव का कहना है कि किसी भी देश की करंसी पर बड़े और दिग्गज लोगों की तस्वीरें छपती हैं। उन्होंने कहा कि जब अमेरिका और यूके में करेंसी पर कई नामचीन हस्तियों की फोटो छप सकते हैं तो भारत में क्यों नहीं। डॉ. अम्बेडकर तो महान अर्थशास्त्री थे। उन्होंने रिजर्व बैंक की स्थापना में अपना बौद्धिक योगदान भी दिया था और स्वामी विवेकानन्द की विरासत भी राजनीतिक रूप से सक्रिय रही है।

बता दें कि कि नरेन्द्र जाधव डॉ. अम्बेडकर की 125वीं जयन्ती समारोह के लिए प्रधानमंत्री के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय समिति में छह गैर सरकारी सदस्यों में से एक हैं।