उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून के नारी निकेतन की चार संवासिनियों को दून अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चारों संवासिनियों की तबियत खराब बताई जा रही है।

दून अस्पताल के इमरजेंसी में चारों संवासिनियों को भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया गया है, जिसमें एक संवासिनी की तबियत ज्यादा खराब बताई जा रही है। गौरतलब है कि लगातार संवासिनियों की तबियत खराब हो रही है।

हाल ही में दो संवासिनी की मौत हो चुकी है। वहीं दून अस्पताल के ईएमओ का कहना है कि चार संवानियों का मेडिकल टेस्ट कराया जा रहा है, जिससे उनकी बीमारी की सही जानकारी मिल सकें। बताया जा रहा है नारी निकेतन में रहने वाली संवासिनियों की सही तरीके से देखभाल नहीं हो पा रही है, जिसकी वजह से लगातार संवासिनियों की तबियत बिगड़ रही है।

अभी एसआईटी की टीम इस मामले की जांच कर रही है कि आखिर नारी निकेतन में हुए यौन शोषण के मामले में आखिर कौन-कौन लोग शामिल थे। वहीं दो संवासिनियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो चुकी है। फिलहाल चार और संवासिनियों को दून अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज किया जा रहा है।

डॉक्टरों का कहना है कि जिस तरह से मरीजों की हालत है, ऐसे में उनको विशेष तौर से ट्रीटमेंट दिया जा रहा है, क्योंकि दो संवासिनी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। ऐसे में मरीजों का विशेष ध्यान दिया जा रहा है, दरअसल मरीजों की स्थिति को देखते हुए यह कहा जा सकता है नारी निकेतन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है।

आखिर जिस तरह से लगातार संवासिनियों की सेहत बिगड़ रही है। ऐसे में यकीनन विशेष ध्यान देने की जरूरत है, जिससे संवासिनियों की सेहत से खिलवाड़ न हो सकें।