टनकपुर-बागेश्वर रेल मार्ग निर्माण संघर्ष समिति की बैठक में आंदोलन जारी रखने का संकल्प लिया गया। बैठक में तय हुआ कि रेल मार्ग को धन आवंटित कराने के लिए उत्तराखंड के पांचों बीजेपी सांसदों से संपर्क किया जाएगा। आंदोलनकारियों ने रविवार 27 दिसंबर को भी सांकेतिक प्रदर्शन के साथ नारेबाजी की।

तहसील मुख्यालय बागेश्वर पर हुई बैठक में आंदोलन और सरकार की ओर से किए गए प्रयासों पर चर्चा हुई। वक्ताओं ने कहा कि वर्तमान समय की चुनौतियों के बावजूद सरकार ने इस रेल लाइन के लिए धन नहीं दिया है। इसके लिए आंदोलन जारी रहेगा, उत्तराखंड के सांसदों से आग्रह किया जाएगा कि वह इसके लिए धन का आवंटन करवाएं।

10 जनवरी को आंदोलन के संबंध में काफलीगैर क्षेत्र में जन-जागरण किया जाएगा। बैठक की अध्यक्षता संघर्ष समिति की अध्यक्ष नीमा दफौटी और संचालन महामंत्री खड़क राम आर्य ने किया।