UKD Airy, Uttarakhand, Dehradun, Gairsain
गैरसैंण को स्थाई राजधानी बनाने की मांग उत्‍तराखंड आंदोलन के समय से ही है

आगामी उत्तराखंड विधानसभा चुनाव 2017 में अब करीब 1 साल का ही वक्त बचा है। ऐसे में तमाम योजनाओं पर काम तेज होने लगे हैं। गैरसैंण विकास परिषद के अध्यक्ष व विधानसभा उपाध्यक्ष डा. अनुसूईया प्रसाद मैखुरी ने गैरसैंण क्षेत्र में स्वीकृत विभिन्न योजनाओं पर निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बारह गांव क्षेत्र के ग्रामीणों की पेयजल से संबंधित समस्या के त्वरित निस्तारण के भी निर्देश दिए हैं।

अस्थायी राजधानी देहरादून में विधानसभा स्थित सभागार में परिषद के अध्यक्ष डा. मैखुरी ने परिषद की बोर्ड बैठक में स्वीकृत 12 विकास योजनाओं की भौतिक प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि गांवली के लिए मथकोटा से नया स्रोत टेप कर 3500 मीटर पाईप लाइन के निर्माण की 15 लाख की योजना पर तेजी से काम किया जाए।

गैरसैंण नगर पंचायत भवन के निर्माण के लिए पहले चरण में 25 लाख रुपये की राशि से हो रहे निर्माण कार्य को भी तेज किया जाए। अधिकारियों ने बताया कि परिषद द्वारा स्वीकृति विभिन्न 12 योजनाओं में से चार योजनाएं पूरी हो चुकी हैं।

प्रस्तावित राजधानी गैरसैंण में टैक्सी स्टैंड के निर्माण का काम भी जारी है। दीवालीखाल मोटर स्टेशन के पास सुलभ शौचालय निर्माण प्रगति पर है। चौखुटिया में लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह निर्माण के लिए 67.25 लाख रुपये स्वीकृत हुए हैं। नगर पंचायत गैरसैंण में 30 स्ट्रीट लाइटें, दिवालीखाल बाजार में दस व भराड़ीसैंण क्षेत्र में 15 स्ट्रीट लाइटें लगाने का काम फरवरी 2016 तक पूरा हो जाएगा।

बैठक में सचिव आवास आर. मीनाक्षी सुंदरम, अपर सचिव पेयजल अर्जुन सिंह, डीएम चमोली वीके सुमन, सीडीओ डीडी पंत आदि भी मौजूद थे।