उत्तराखंड के हरिद्वार जिले में सोमवार को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव होने हैं। जिले में लक्सर क्षेत्र के एक गांव में चुनाव से ठीक एक दिन पहले जमकर बवाल हो गया। उत्तराखंड के हरिद्वार जिले में लक्सर क्षेत्र में एक विवादित भूमि पर बाबा साहेब अंबेडकर की मूर्ति लगाकर उस पर कब्जे का प्रयास कर रहे लोगों ने पुलिस द्वारा हस्तक्षेप किये जाने पर उस पर पथराव कर दिया, जिसमें 15 पुलिसकर्मियों सहित करीब 20 व्यक्ति घायल हो गए।

बवाल एक विवादित जमीन पर डॉ. भीमराव अंबेडकर की मूर्ति लगाने को लेकर हुई, जिले शनिवार की राज गुपचुप तरीके से इस जमीन पर लगा दिया गया था। रविवार को पुलिस को जैसे ही इस बात की भनक लगी तो वे लाव लश्कर लेकर मूर्ति को हटाने पहुंच गए।

uttarakhand-police-lathicharge

मूर्ति हटाने पहुंची पुलिस और प्रशासन की टीम पर ग्रामीणों ने पथराव किया। बेकाबू हो गये लोगों की भीड को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और हवाई फायरिंग भी की। घटना में शामिल कुछ महिलाओं सहित लगभग 25 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल दो पक्षों में जमीन को लेकर विवाद है और फिलहाल मामला कोर्ट में है। इस बीच चुनावी माहौल का फायदा उठाने के लिए कुछ लोगों ने इस जमीन पर डॉ. अंबेडकर की मूर्ति लगा दी। मूर्ति रखे जाने से एक बड़ा पक्ष नाराज है और उसने इस मामले की भनक लगते ही तुरंत पुलिस को सूचित किया। इसके बाद पुलिस व प्रशासन की टीम मूर्ति हटाने के लिए पहुंच गए।

uttarakhand-police-lathicharge1

फिलहाल प्रशासन ने सभी पक्षों को मना लिया है और मूर्ति को किसी अन्य सार्वजनिक जगह पर लगाने का आश्वासन दिया है। लक्सर पुलिस थाना के थानाध्यक्ष जयदेव आर्य ने बताया कि लक्सर में नगर पंचायत और एक व्यक्ति के बीच की विवादित भूमि पर रविवार को अनुसूचित जाति से संबंध रखने वाले कुछ लोग बाबा साहेब अंबेडकर की मूर्ति लगाकर उस पर अनाधिकृत कब्जे की कोशिश कर रहे थे। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने उन्हें ऐसा करने से रोका, जिस पर उत्तेजित लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया।

uttarakhand-police-lathicharge5

उन्होंने बताया कि पथराव की घटना में 15 पुलिसकर्मी तथा चार-पांच अन्य लोग घायल हो गए। हालात को काबू में करने और भीड को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने पहले लाठियां भांजी और उसके बाद हवाई फायरिंग भी की।

आर्य ने बताया कि पथराव की घटना में शामिल कुछ महिलाओं सहित 25 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि इलाके में स्थिति शांतिपूर्ण है।