जिला नैनीताल के हल्द्वानी कोतवाली पुलिस ने यहां के टांडा जंगल में शुक्रवार रात छापा मारकर हथियारों की फैक्ट्री का भंडाफोड़ कर दिया। पुलिस को देखते ही असलहा तैयार करने वाला मुख्य तस्कर भाग निकला। पुलिस ने मौके से दो लोगों को गिरफ्तार कर तमंचा और बंदूक बनाने के औजारों को बरामद किया है। मुख्य आरोपी की तलाश जारी है।

सब इंसपेक्टर उमराव सिंह को शुक्रवार शाम सूचना मिली कि टांडा जंगल में कुछ लोग असलहा तैयार कर रहे हैं। सूचना के आधार पर पुलिस ने जंगल में कॉम्बिंग शुरू कर दी। पुलिस ने घेराबंदी कर दो लोगों को पकड़ लिया, लेकिन हथियारों का मुख्य तस्कर मौके से भागने में सफल रहा। पुलिस ने मौके से भट्ठी का चरखा, ट्रेगर, चार 315 बोर की नाल, छैनी, घोड़ा, ट्रेगर डाई के साथ मोटरसाइकिल भी बरामद की है। तस्कर यहां खने पेड़ों के बीच में ही अपना ठिकाना बनाए हुए थे।

पकड़े गए लोगों में उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के अल्लीपुर निवासी मुराद पुत्र शरीफ खां और मुरादाबाद जिले के पिपरी थाना मझौला के शेर सिंह पुत्र जयदेव सिंह शामिल हैं। पूछताछ में पता चला कि तमंचा और बंदूक बनाने का काम रामपुर जिले का ही अल्लीपुर टांडा निवासी गुच्छन करता है जो मौके से फरार हो गया है।

रामपुर पुलिस भी उसे कई बार गिरफ्तार कर चुकी है। जंगल में सुरक्षित और गोपनीय स्थान ढूंढकर उसने ही गुरुवार से हथियार बनाने का काम शुरू किया था। मौके से बरामद बाइक भी गुच्छन की ही है। पुलिस शातिर तस्कर गुच्छन की तलाश के लिए रामपुर पुलिस से संपर्क में है। गिरफ्तार लोगों ने बताया कि गुच्छन ही जानता है कि असलहा कहां-कहां सप्लाई करना है।