नई दिल्ली।… दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (AAP) ने गुरुवार को कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (DDCA) से जुड़े भ्रष्टाचार के मामले में लिप्त हैं। आप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जेटली को बर्खास्त करने की मांग की।

आप नेता संजय सिंह ने नई दिल्ली में संवाददाताओं से कहा, ‘जब तक जेटली पद पर हैं, डीडीसीए मामले की निष्पक्ष जांच नहीं हो सकती। ऐसे में उनका पदमुक्त होना अनिवार्य हो गया है।’

एक अन्य आप नेता कपिल मिश्रा (कैबिनेट मंत्री) ने कहा, ‘मोदीजी में क्या जेटली को उस समय तक पद से हटाने की हिम्मत है, जब कि इस मामले की जांच पूरी नहीं हो जाती। क्या मोदीजी वह कर सकते हैं, जो मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने दागी मंत्रियों के साथ किया है?’

उनका इशारा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा रिश्वत लेने के आरोपी मंत्री को मंत्रिमंडल से हटाए जाने की ओर था। आप ने इसी आधार पर जेटली को भी पदमुक्त किए जाने की मांग करते हुए कहा कि जब तक दिल्ली व जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) से जुड़े मामले की जांच पूरी नहीं हो जाती, तब तक जेटली को पदमुक्त कर देना चाहिए।

इसी संवाददाता सम्मेलन में आप नेता कुमार विश्वास ने कहा, ‘अरुण जेटली डीडीसीए से जुड़े भ्रष्टाचार के मामले में लिप्त हैं।’ आप के प्रवक्ता राधव चड्ढा ने कहा कि जेटली डीडीसीए को किसी प्राइवेट क्लब की तरह चलाते रहे हैं। आप नेताओं ने जेटली पर कई आरोप लगाए हैं। जेटली कई सालों तक डीडीसीए के अध्यक्ष रहे हैं।

इन आरोपों में एक आरोप यह भी है कि फिरोजशाह कोटला स्टेडियम के निर्माण के लिए 24 करोड़ रुपये का बजट था, जबकि इस स्टेडियम के निर्माण में 114 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।