देवभूमि उत्तराखंड जैसी शांत जगह भी अब आतंकियों की हिट लिस्ट में है। उत्तराखंड में देश और दुनिया के कई नामी गिरामी संस्थानों का होना इसकी वजह है। मेरठ से गिरफ़्तार आईएसआई एजेंट एजाज़ ने पूछताछ में कई ख़ुलासे किए हैं।

आईएसआई एजेंट एजाज़ ने खुलासा किया है कि उत्तराखंड के कई ठिकानों की रेकी की गई थी। जानकारी मिलने के बाद उत्तराखंड एसटीएफ़ की टीम पूछताछ के लिए मेरठ पहुंच रही है।

मिलेट्री संस्थानों को सबसे ज्यादा खतरा
आतंकियों को मुंह तोड़ जवाब देकर देश की सीमाओं की सुरक्षा करने वाले जांबाज़ों को देहरादून की इंडियन मिलिट्री एकेडमी यानी आईएमए में ही तैयार किया जाता है। इस लिहाज से यहां की सुरक्षा हमेशा चिंता का विषय रहा है।

IAS अकादमी, FRI और IIT रुड़की भी आतंकियों की हिट लिस्ट में
देश के प्रशासनिक अधिकारियों को ट्रेनिंग देने वाली मसूरी की एलबीएस अकादमी भी हमेशा से आतंकियों के निशाने पर रही है। एफआरआई, दून स्कूल से लेकर आईआईटी रुड़की पर भी आतंक का साया अकसर मंडराता रहता है।

धार्मिक स्थलों पर भी हो सकता है हमला
चारधाम, धार्मिक नगरी हरिद्वार और तीर्थनगरी ऋषिकेश भी आतंकियों के निशाने हैं। चिन्ता की बात ये है कि हरिद्वार में अगले साल जनवरी में अर्द्धकुंभ मेला शुरू होने जा रहा है। ऐसे में आईएसआई एजेंट एजाज का खुलासा सुरक्षा एजेंसियों की मुसीबत बढ़ा सकता है।