हरिद्वार : नशेड़ी बाप ने तीन लाख रुपये की खातिर बेच दी अपनी नाबालिग बेटी

नशा इनसान के भावों को मार देता है। नशेड़ी इनसान भावना शून्य हो जाता है और उसे किसी के दु:ख-दर्द और तकलीफ की परवाह नहीं रहती, फिर चाहे वह उसके अपने करीबी ही क्यों न हो। ऐसा ही एक मामला हरिद्वार जिले के रुड़की में लक्सर क्षेत्र के एक गांव में देखने को मिला।

यहां नशे की लत पूरा करने के लिए एक शराबी पिता ने अपनी ही नाबालिग बेटी का सिर्फ तीन लाख के लिए सौदा कर दिया। मात्र 11 साल की बच्ची की मां की मौत करीब चार साल पहले ही हो चुकी है। हफ्ते भर बाद मामले की जानकारी मिलने पर एक महिला समाजसेवी ने पुलिस में लिखित शिकायत दी। पुलिस क्षेत्राधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि जांच के बाद आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

महिला समाजसेवी ने बताया कि लक्सर क्षेत्र के केहड़ा गांव की 11 साल की एक बच्ची को उसके पिता ने शराब की लत के लिए बेच दिया। बच्ची की मां का लगभग चार साल पहले देहांत हो गया था। इसके बाद से ही बच्ची अपने दो भाइयों और पिता के साथ गांव में रहती है। वह कक्षा छह पढ़ती है।

करीब एक हफ्ते पहले नाबालिग ने अचानक स्कूल आना बंद कर दिया। खोजबीन करने पर पता चला कि उसके पिता ने इलाके के ही एक गांव में बच्ची को तीन लाख रुपये में बेच दिया है। इस महिला समाजसेवी का कहना है कि बच्ची को किसी भी हद तक जाकर बचाने की कोशिश की जाएगी।

उन्होंने इस मामले में गांव के ही दो-तीन लोगों के नामों का भी खुलासा किया है और पुलिस को लिखित शिकायत दे दी है। शिकायतकर्ता ने पुलिस क्षेत्राधिकारी से बच्ची को बचाने की गुहार लगाते हुए दोषियों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।