पुलिसकर्मी की विधवा को बंधक बनाकर 15 महीने तक किया बलात्कार

उत्तराखंड में तराई क्षेत्र के जिले उधमसिंह नगर में एक विधवा को शादी का झांसा देकर 15 महीनों तक बंधक बनाकर बलात्कार का मामला सामने आया है। पीड़ित ने एसएसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई थी। एसएसपी केवल खुराना के आदेश पर पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी है।

कोतवाली में दी शिकायत में आदर्श बंगाली कॉलोनी निवासी महिला ने कहा कि उसकी साल 2000 में उत्तर प्रदेश पुलिस के सिपाही से शादी हुई थी। जिससे उसका एक बेटा भी है। 2014 में पति की सड़क दुर्घटना में मौत के बाद वह मेहनत-मजदूरी कर परिवार पाल रही थी।

अगस्त 14 में हरदीप सिंह लाड़ी निवासी सूरज फार्म बिलासपुर ने उसे शादी का झांसा दिया और मलिक कॉलोनी स्थित किराए के मकान में रखा। तीन महीने तक सब ठीक रहा, लेकिन उसके बाद हरदीप ने उसके साथ गाली-गलौच और मारपीट शुरू कर दी। उसको बंधक बनाकर शारीरिक शोषण किया गया। आपराधिक प्रवृत्ति के हरदीप ने उस पर निगरानी के लिए आदमी भी तैनात कर दिए।

19 नवंबर की रात हरदीप ने उसको बुरी तरह से पीटा और मोबाइल भी छीन लिया। किसी तरह उसने परिजनों को सूचना देकर बुलाया, लेकिन हरदीप ने कुशलक्षेम पूछने आए पिता से उसे नहीं मिलने दिया और हड़काकर भगा दिया। महिला का कहना है कि सोमवार सुबह जब हरदीप किराए के घर से बाहर गया तो वह किसी तरह भागकर परिजनों के पास पहुंच गई।

उसे 15 महीनों तक इसी मकान में बंधक बनाकर रखा गया था। उसका आरोप है कि हरदीप के खिलाफ यूपी और उत्तराखंड के थानों में हत्या, चोरी और डकैती के मुकदमे दर्ज हैं। पुलिस ने आरोपी हरदीप के खिलाफ धारा 344, 376, 506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।