उत्तराखंड में हल्द्वानी स्थित कुमाऊं मंडल के सबसे बड़े रेफरल अस्पताल कहे जाने वाले सोबन सिंह जीना बेस अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीजों के लिए खुशखबरी है। तीन साल के लंबे इंतजार के बाद आखिरकार यहां सीटी स्कैन की सुविधा शुरू हो गई है।

बेस अस्पताल में लगभग तीन साल पहले सीटी स्कैन मशीन लग गई थी, लेकिन तकनीकी स्टाफ न होने और रेडियोलॉजिस्ट डॉ विपिन चन्द्र पन्त के ट्रांस्फर के चलते इसका संचालन शुरू नहीं हो पाया था, जिससे मरीजों को सीटी स्कैन के लिए निजी अस्पतालों में जाना पड़ता था और यह काफी महंगा होता था।

अब बेस अस्पताल में यह सुविधा शुरू होने से कुमाऊं भर से आने वाले मरीजों को बड़ी राहत मिलेगी, हालांकि स्टाफ की कमी के चलते अभी अस्पताल में भर्ती और सरकारी अस्पतालों से रेफर मरीजों को ही इस सुविधा का लाभ मिल पा रहा है।

CT-Scan

बेस अस्पताल के रेडियोलॉजिस्ट डॉ विपिन चन्द्र पन्त के मुताबिक मरीजों के सिर के हिस्से के लिए 1300 से 1600 रुपये और शरीर के अन्य भागों के लिए 2300 से 2500 फीस निर्धारित की गई है। जबकि अभी तक मरीजों को इसके लिए निजी अस्पतालों में काफी ज्यादा खर्च करना पड़ता था। उनके मुताबिक अस्पताल प्रबन्धन समिति द्वारा संविदा पर स्टाफ मिलने पर सभी मरीजों को इसका लाभ मिलने लगेगा।