मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अपने पूर्व बयान पर सफाई देते हुए कहा है कि उन्होंने गौ हत्या को लेकर किसी तरह का कोई बयान नहीं दिया है। दरअसल हरिद्वार में एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री की तरफ से ‘गौहत्या राष्ट्रद्रोह है’ बयान दिए जाने की बात कही जा रही थी।

इस पर मुख्यमंत्री ने साफ किया है कि कार्यक्रम में उनके या किसी भी व्यक्ति की तरफ से ऐसा कोई बयान नहीं दिया गया था। सरकार ‘गाय गंगा योजना’ के द्वारा राज्य में किसानों और आम लोगों की सेवा कर रही है।

दुग्ध उत्पादन को लेकर सरकार किसानों को भरपूर मदद दे रही है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि सरकार गाय पर राजनीति नहीं करती है, बल्कि गाय और किसानों के विकास में कार्य करती है, जिससे उत्तराखंड में दुग्ध के क्षेत्र में और तेजी से कार्य किया जा सके।