क्राइम ब्रांच का कारनामा, अपहरण के 14 साल बाद महिला मुक्त कराई गई

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने 14 साल पहले अपहरण की गई उस महिला को मुक्त करा लिया है जिससे अपहरण करने वाले व्यक्ति ने बाद में शादी कर ली थी। संयुक्त पुलिस आयुक्त रवींद्र यादव ने बताया कि 31 वर्षीय महिला को वापस दिल्ली लाया गया है। उसका 10 साल का एक बेटा भी है। उसके पति की पहचान राजेश कुमार के तौर पर हुई है जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस के मुताबिक दिसंबर 2001 में महिला का अपहरण किया गया था। उस वक्त वह 12वीं कक्षा की छात्रा थी। आरोपी राजेश उस वक्त पूर्वी दिल्ली स्थित महिला के घर में किराए पर रहता था। स्थानीय पुलिस के लड़की का पता न लगा पाने के कारण मामला बाद में अपराध शाखा को सौंप दिया गया था।

शनिवार को पुलिस को राजेश के अमृतसर में होने की खबर मिली थी। इसके बाद पुलिस दल ने उसका पता लगा उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ के दौरान राजेश ने 14 साल पहले महिला का अपहरण करने की बात कुबूल कर ली है।

पुलिस ने बताया कि 2005 में महिला से शादी करने तक राजेश लगातार अपना स्थान बदलता रहता था। 2005 में ही उनका एक बेटा हुआ था, जिसके साथ वह अमृतसर में रह रहे थे।

पुलिस ने बताया कि राजेश ने इससे पहले भी एक शादी की थी। उसकी पत्नी और उसकी बेटी जो अब 18 साल की है वह उत्तर प्रदेश के शामली जिले में रह रहे हैं। 2000 में दिल्ली आने के बाद से ही उसने कभी उनसे संपर्क नहीं किया।