दीपावली के दिन गैर-सरकारी संगठन ‘गूंज’ के दिल्ली केंद्र के जलकर खाक हो जाने की घटना पर इसके संस्थापक अंशु गुप्ता ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि यह घटना एक पटाखे के कारण हुई। अंशु ने पटाखों के खिलाफ एक ऑनलाइन अभियान भी शुरू कर दिया है।

मैग्सैसे अवॉर्ड से सम्मानित अंशु ने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा, ‘मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि पटाखों के खिलाफ संदेश फैलाएं। एक पटाखे के कारण गूंज के दिल्ली केंद्र का यह हाल हुआ। ढेरों सामान, जिसे हमने कई दिनों और कई रातों की मेहनत से इकट्ठा किया था, सब जलकर खाक हो गए। ज्यादा कुछ नहीं कहना… पटाखों के नाम से कुख्यात इस अभद्रता पर गुस्सा आ रहा है।’

अंशु ने लिखा, ‘हम हालात से निपट लें फिर ज्यादा सूचनाएं साझा करूंगा। यह गूंज के बड़े परिवार के लाखों लोगों और हमारी टीम के लिए दुखद समय है। खासतौर पर दुख इसलिए है कि आने वाले दिनों में इस्तेमाल में लाए जाने लायक ढेरों कंबल, ऊनी कपड़े और जरूरत के अन्य सामान सब जलकर खाक हो गए।’