अगले साल चारधाम यात्रा सीजन में बद्रीनाथ धाम 4जी और वाई-फाई की सुविधा से जुड़ जाएगा। तीर्थयात्रियों के साथ ही स्थानीय लोगों को वाई-फाई की सुविधा चौबीसों घंटे मुफ्त मिलेगी। गुरुवार को बद्रीनाथ धाम में मत्था टेकने पहुंचे रिलायंस समूह के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने यह बात कही।

प्रमुख उद्योगपति मुकेश अंबानी अपनी पत्नी नीता अंबानी और दोनों बेटों हरि अनंत व आकाश के साथ हेलीकॉप्टर से बद्रीनाथ पहुंचे और सबसे पहले बद्रीनाथ धाम में मत्था टेका।

इसके बाद उन्होंने बद्रीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के अधिकारियों से यात्रा के संबंध में जानकारी ली। मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह ने बताया कि मंदिर समिति की ओर से जोशीमठ, गोपेश्वर (मंडल) और गुप्तकाशी में संस्कृत महाविद्यालय भी चल रहे हैं।

अंबानी ने इन महाविद्यालयों में अवस्थापना सुविधाओं के लिए हर साल एक करोड़ रुपये की आर्थिक मदद की बात कही। उन्होंने कहा कि बद्रीनाथ धाम में छह महीने में रिलायंस की 4जी सेवा शुरू हो जाएगी। आगामी यात्रा सीजन तक बद्रीनाथ धाम को वाई-फाई सेवा से भी जोड़ दिया जाएगा।

धाम की चोटियों को निहारते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि वे करीब 25 साल पूर्व पिता धीरू भाई अंबानी के साथ बद्रीनाथ धाम के दर्शनों को पहुंचे थे। बद्रीनाथ का बुलावा आया तो इस बार फिर धाम के दर्शनों के लिए पहुंचे। करीब एक घंटे तक बद्रीनाथ धाम में पूजा-अर्चना करने के बाद वे केदारनाथ धाम के दर्शन करने चले गए।

मुकेश अंबानी परिवार के साथ वीआईपी गेट के बजाय मुख्य सिंहद्वार से होकर बद्रीनाथ धाम में मत्था टेकने पहुंचे। बद्रीनाथ गर्भगृह में पूजा करते वक्त उनके छोटे बेटे आकाश की तबियत बिगड़ गई। उसे कुछ देर तक आदि गुरु शंकराचार्य गद्दी स्थल के समीप बैठाया गया। उनके साथ आए डॉक्टरों ने आकाश के स्वास्थ्य की जांच भी की। बताया गया कि ऑक्सीजन की कमी के चलते उसकी तबियत बिगड़ी है।

केदारनाथ में 40 मिनट विशेष पूजा की
बद्रीनाथ में दर्शन के बाद अंबानी परिवार सहित बाबा केदार के दर्शन करने पहुंचे। शुक्रवार को दोपहर करीब डेढ़ बजे हेलीकाप्टर से धाम पहुंचे। यहां से नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के एटीबी में बैठकर अंबानी, उनकी पत्नी नीता अंबानी और बेटे अनंत अंबानी मंदिर में पहुंचे। उन्होंने करीब चालीस मिनट तक विशेष पूजा-अर्चना की।

इस दौरान उन्होंने निम के पदाधिकारियों से धाम में हो रहे पुनर्निर्माण कार्यों के बारे में जानकारी ली। कहा कि धाम के लिए उनके स्तर से जो भी हो सकेगा, वे करेंगे। नीता अंबानी इससे पूर्व 22 मई को भी पुत्र हरि अनंत के साथ केदारनाथ पहुंची थी।