मीडिया में काफी हो हल्ला होने के बाद आखिरकार यूपी सिंचाई विभाग ने हरिद्वार में हर की पैड़ी पर आखिरकार आचमन और स्नान लायक जल छोड़ दिया है। इसके बाद तीर्थ पुरोहित समाज काफी खुश है और समर्थन के लिए मीडिया का शुक्रिया भी कर रहा है।

यही नहीं पुरोहित समाज ने यूपी सरकार को चेतावनी भी दी है कि अगर कुंभ कार्यों के नाम पर गंगा को एक महीने के लिए बंद किया गया तो आंदोलन झेलने को तैयार रहें।

दो दिन पहले गंगा बंदी के चलते यहां न तो लोग अस्थिविसर्जन कर पा रहे थे न ही स्नान, जिससे नाराज तीर्थ पुरोहित समाज ने विरोध प्रदर्शन की चेतावनी तक दे डाली थी।

हर कोई जानता है कि हर की पैड़ी की पहचान गंगा से है ऐसे में वार्षिक बंदी के दौरान तीर्थ यात्री यहां आते हैं और गंगाजल उन्हें नसीब नहीं होता तो उससे ज्यादा परेशानी शायद और कोई नहीं होती।