हरिद्वार में महिला कांग्रेस के सम्मेलन में पहुंचे मुख्यमंत्री हरीश रावत ने महिलाओं के लिए घोषणाओं की झड़ी लगा दी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का लक्ष्य सभी बुजुर्ग, विधवाओं और निराश्रित महिलाओं को अधिक से अधिक सुविधाएं देना है। इसके तहत सरकार 60 साल से अधिक आयु की बुजुर्ग महिलाओं के लिए पौष्टिक अनाज के पैकेट देगी। इस अनाज को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के जरिए बांटा जाएगा।

जो महिला एक साल से अपने मायके में रह रही है उसे 800 रुपये प्रतिमाह पेंशन मिलेगी। विकलांग बच्चा पैदा होने पर इसके पोषण के लिए राज्य सरकार 500 रुपये प्रतिमाह पोषण भत्ता भी देगी। ऋषिकुल मैदान में सोमवार दोपहर तीन बजे से शुरू हुए सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने कहा कि मजदूर की आकस्मिक मौत होने पर एक लाख रुपये की सहायता राज्य सरकार दे रही है।

मजदूर की बेटी को शादी के लिए 50 हजार रुपये की मदद भी पहले से दी जा रही है। जिले में जल्द इंदिरा अम्मा कैंटीन खोली जाएगी। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। इसमें सस्ती दरों पर खाना उपलब्ध कराया जाएगा।

पूर्व विधायक अम्बरीष कुमार ने कहा कि लोगों को तरह-तरह के सपने दिखाकर केंद्र की बीजेपी सरकार सत्ता में आई थी। लेकिन आज लोग महंगाई से परेशान हैं। महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष किरण सिंह ने कहा कि जिस प्रकार यहां भीड़ इकट्ठा हुई है, उससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि साल 2017 के विधान सभा चुनाव में कांग्रेस दुबारा सत्ता में आएगी।

महिला कांग्रेस की शहर अध्यक्ष विमला पांडे ने कहा कि हमें इन बहुरूपियों से सावधान रहना चाहिए। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना में सरकार ने एपीएल-बीपीएल की श्रेणी को खत्म कर दिया है। इस योजना का अब सभी लोग फायदा उठा सकते हैं।

इसके तहत एक साल में एक लाख तक का मुफ्त इलाज पैनल में पंजीकृत अस्पतालों में होगा। लेकिन प्रचार प्रसार के अभाव में योजना का शत प्रतिशत रिजल्ट नहीं आ रहा है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से योजना के प्रचार-प्रसार करने की अपील की।

दाल के मुद्दे पर कहा कि राज्य सरकार 35 रुपये प्रतिकिलो की दर से सस्ती दाल दे सकती है। गन्ना किसानों के बकाए भुगतान पर कहा कि पेराई सत्र से पहले 70 प्रतिशत बकाए का भुगतान कर दिया जाएगा।

कांग्रेस नेता जहीरा ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके गांव बढ़ेडी राजपूतान में न शौचालय के लिए पैसे आवंटित किए जा रहे हैं और न पात्र लोगों को पेंशन मिल रही है। इस पर मुख्यमंत्री ने डीएम हरबसं चुघ को तुरंत कार्रवाई करने के निर्देश दिए। कार्यक्रम में बीजेपी की कई महिलाओं ने कांग्रेस की सदस्यता ली।

शाम करीब 4.20 बजे कार्यक्रम समाप्त होने के बाद जैसे ही मुख्यमंत्री जाने की तैयारी कर रहे थे उनके सामने हाथों में तख्ती लिए करीब 20-25 महिलाएं और पुरुष आवास उपलब्ध कराने की मांग करते हुए नारेबाजी करने लगे। घासमंडी से आई अल्का ने बताया कि उन्होंने आवास आवंटन के लिए आवेदन किया है लेकिन अभी तक उपलब्ध नहीं कराया। उपस्थित अधिकारियों ने आवेदनों पर विचार करने का आश्वासन देकर सभी को शांत कराया।