अब जल्द ही सरोवर नगरी नैनीताल तस्वीर बदलने वाली है। 14वें वित्त आयोग ने नैनीताल नगर पालिका को 1 करोड़ रुपये की धनराशि दी है। नैनीताल नगर पालिका के अध्यक्ष श्याम नारायण ने बताया है कि वित्त आयोग से उनको 1 करोड़ से ज्यादा की धनराशि मिली है, जिसकी मांग वो काफी समय से करते आ रहे थे। पालिका अध्यक्ष का कहना है कि उनके बिजली, सड़क, पार्कों के रुके काम भी अब जल्द ही शुरू हो जाएंगे।

आयोग से नैनीताल के विकास के लिए तो रुपया मिल रहा है, लेकिन शहर को अब भी आवारा कुत्तों से निजात मिल जाएगी ऐसा लगता नहीं है। दरअसल पालिका ने एनीमल बर्थ कंट्रोल के लिए भवन निर्माण की तैयारी शुरू कर दी थी। लेकिन झील विकास प्राधिकरण ने इसके लिए नक्शा पास करने में रोड़ा अटका दिया है। प्राधिकरण का तर्क है कि इतनी जल्दी नक्शा नहीं बन जाता है।

Mall-Road-Nainital

आवारा कुत्तों पर लगामा लगाने के लिए हाईकोर्ट पालिका की खिंचाई कर चुका है। इसके बाद से पालिका की ओर से एनीमल बर्थ कंट्रोल की इमारत बनाने के लिए 46 लाख रुपये भी मंजूर कर लिए गए थे और शहर में जगह की तलाशी शुरू कर दी थी। लेकिन झील प्राधिकरण के रवैये से इसमें भी रोड़ा अटक गया है।