भूकंप के तेज झटकों ने सोमवार को अफगानिस्तान से लेकर भारत तक पूरे हिमालयी क्षेत्र को हिलाकर रख दिया। पाकिस्‍तान और अफगानिस्‍तान में 250 से ज्‍यादा लोगों की मौत हो गई। यहां गौर करने वाली बात ये है कि यह विनाशकारी भूकंप भी 26 तारीख को ही आया। दुनियाभर में भूकंप सहित तमाम ऐसी विनाशकारी घटनाएं 26 तारीख को घटी हैं कि अब तो हर महीने 26 तारीख आते ही डर लगने लगता है। बता दें मुंबई में अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला भी 26 तारीख को ही शुरू हुआ था।

डरावनी 26 तारीख का इतिहास एक नजर में

  • उत्तरी अमेरिका में भूकंप : 26 जनवरी 1700
  • क्राकटाऊ ज्वालामुखी विस्फोट : 26 अगस्त 1883 (36,000 मौत)
  • रोड्स भूकंप : 26 जून 1926
  • चीन (कांसु) में भूकंप : 26 दिसंबर 1932 (70,000 मौत)
  • तुर्की भूकंप : 26 दिसंबर 1939 (41,000 मौत)
  • पुर्तगाल भूकंप : 26 जनवरी 1951 (30,000 मौत)
  • यूगोस्लाविया भूकंप : 26 जुलाई 1963
  • चीन भूकंप : 26 जुलाई 1976
  • सबा ज्वारीय लहरों का कहर : 26 दिसंबर 1996 (1,000 मौत)
  • गुजरात भूकंप : 26 जनवरी 2001
  • ईरान (बैम) में भूकंप : 26 दिसंबर 2003 (60,000 मौत)
  • हिंद महासागर में सुनामी : 26 दिसंबर 2004
  • आचे सुनामी : दिसंबर 26, 2004
  • मुंबई में बाढ़ : 26 जुलाई 2005
  • मुंबई हमला : 26 नवंबर 2008
  • जापान भूकंप : 26 फरवरी 2010
  • ताशिक भूकंप : 26 जून 2010
  • ताइवान भूकंप : 26 जुलाई 2010
  • मेनतवाई सुनामी : 26 अक्टूबर 2010
  • मेरापी ज्वालामुखी विस्फोट : 26 अक्टूबर 2010
  • नेपाल में भूकंप : 26 अप्रैल 2015
  • अफगानिस्तान-पाकिस्तान भूकंप : 26 अक्टूबर 2015nepal-quake1

इससे पहले कि आप 26 तारीख को पूरी तरह से मनहूस मानें बता दें कि भारत का संविधान भी 26 तारीख को ही 1950 में लागू हुआ था। एक और बात 26 मई 2014 को भारत में पहली बार किसी गैर कांग्रेसी दल की पूर्ण बहुमत की सरकार ने शपथ ली और नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री बने थे।