‘डॉली की डोली’ की फिल्मी कहानी हुई सच, दुल्हन बनकर आई और सबकुछ लूट ले गई

हरिद्वार जिले के लक्सर में एक परिवार ने अनजान महिला को असहाय मानकर अपनाने का फैसला किया। लेकिन यह परिवार आज अपने उस फैसले पर पछता रहा है।

वही ‘असहाय’ महिला पूरे परिवार को बेहोश करने के बाद घर में रखी लाखों की नगदी व सामान लेकर रफू-चक्कर हो गई। परिवार ने पुलिस से महिला को पकड़ने की गुहार लगाई है।

दरअसल कस्बे के एक युवक की शादी कुछ साल पहले हुई थी। एक बच्ची के जन्म लेने के बाद उसकी पत्नी की मौत हो गई थी। बच्ची की परवरिश की खातिर परिवार युवक की दूसरी शादी की तैयारी में जुटा था। इसी बीच जनवरी में हरिद्वार में युवक की बहन की मुलाकात एक महिला से हुई। उसने अपने भाई की आपबीती महिला को सुनाते हुए उसके सामने शादी का प्रस्ताव रख दिया।

महिला ने कुछ दिन बिना शादी रहने की शर्त रखी। कई महीने बिना शादी के परिवार के साथ रहने के बाद दो महीने पहले मंदिर में युवक से उसकी शादी करा दी गई।

रविवार सुबह जब घर वाले उठे तो बहू को घर पर न देखकर परेशान हुए। सामान बिखरा पाए जाने पर उन्हें शक हुआ। तलाशी लेने पर घर में रखे नगदी जेवर गायब मिले। इस पर उनका शक यकीन में बदल गया। परिवार ने पुलिस चौकी पहुंचकर आरोपी महिला को ढूंढने की गुहार लगाई।

बहू बनकर परिवार को चपत लगाने वाली महिला घर में बहन की शादी के लिए रखा जेवर भी ले उड़ी। परिवार ने पाई-पाई जोड़कर बेटी की शादी के लिए गहने बनवाए थे। अब परिजनों को बेटी की शादी की चिंता सता रही है।

हालांकि अभी बेटी का रिश्ता भी तय नहीं हुआ है। मगर घर की आर्थिक स्थिति को देखते हुए पहले ही थोड़ी-थोड़ी पूंजी जमा कर गहने बनवाए गए थे।