पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाए जा रहे ‘मेक इन इंडिया’ अभियान की तरीफ की है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने भी एचएमटी कारखाने को बचाने के लिए पीएम को पत्र लिखा था, जिस पर पीएम मोदी ने पत्र लिखकर उन्हें आश्वस्त भी किया है।

नारायण दत्त तिवारी मंगलवार को रानीबाग स्थित एचएमटी फैक्ट्री पहुंचे। एचएमटी फैक्ट्री पहुंचने पर कर्मचारियों ने पूर्व सीएम का गर्मजोशी से स्वागत किया। एनडी तिवारी फैक्ट्री को बंदी से बचाने को लेकर 237 दिनों से धरना दे रहे कर्मचारियों के धरना स्थल पर भी गए।

गौरतलब है कि साल 1982 में केन्द्रीय उद्योग मंत्री रहते हुए तिवारी ने ही एचएमटी कारखाने की आधारशिला रखी थी। मौजूदा समय में एचएमटी फैक्ट्री की दुर्दशा को देखकर पूर्व सीएम काफी व्‍यथित दिखे। उन्होंने फैक्ट्री परिसर से ही केन्द्र सरकार के भारी उद्योग मंत्रालय के प्रमुख सचिव को फोन लगाकर जल्द एचएमटी कारखाने को रिवाइवल पैकेज दिए जाने की भी मांग की।

एनडी तिवारी ने एचएमटी कारखाने को पुनर्जीवित करने को लेकर कहा कि इसमें किसी दल की बात नहीं होनी चाहिए, क्योंकि एचएमटी घड़ी एक समय देश व दुनिया में भारत का नाम रोशन कर चुकी है।