उत्तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष ने फिर दोहराई लोकसभा और विधानसभा सीटें बढ़ाने की मांग

उत्तराखंड कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने एक बार फिर विधानसभा और लोकसभा सीटों की संख्या बढ़ाने की बात की है। उन्होंने कहा कि राज्य की भौगोलिक परिस्थितियों और समदर्शी विकास के लिए विधानसभा क्षेत्रों की संख्या 101 और लोकसभा 11 और ब्लॉकों के गठन की जरूरत है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस हमेशा ही गैरसैंण की हिमायती रही है। इसी को देखते हुए कांग्रेस सरकार गैरसैंण में कैबिनेट बैठक, विधानसभा सत्र से लेकर विधानसभा भवन बना रही है। उन्होंने कहा कि यदि केंद्र सरकार राजधानी के लिए 1100 करोड़ देती है तो स्थाई राजधानी का हल हो जाएगा।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए किशोर ने कहा कि पहाड़ी क्षेत्रों से हो रहे पलायन को रोकने के लिए राज्य सरकार कारगर नीति बना रही है। पारंपरिक खेती और संस्कृति को जीवित रखने पर जोर दिया जा रहा है। स्थानीय उत्पादों के लिए सरकार बाजार उपलब्ध कर रही है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि राज्य की भौगोलिक परिस्थिति को देखते हुए केंद्र सरकार को जनसंख्या को नही बल्कि भौगोलिक दृष्टि को आधार मानकर विधानसभा की 101, लोकसभा की 11 सहित ब्लॉकों का गठन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी ने राज्य के लिए बजट तो दूर सीएम हरीश रावत को मिलने का समय भी बमुश्किल दिया है।

उपाध्याय ने टिहरी से चुनाव लड़ने के सवाल पर गोलमोल जवाब देते हुए कहा कि उनकी राय है कि मुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष में एक चुनाव लड़े और एक चुनाव प्रबंधन देखे। लेकिन कौन चुनाव लड़ेगा और कहां से लड़ेगा यह पार्टी हाईकमान तय करेगा। उन्होंने कहा कि पूर्व में नई टिहरी में जल कर (वाटर टैक्स) और सीवर कर शुल्क पर सरकार ने रोक लगाई थी।

जनप्रतिनिधियों को टीएचडीसी पर दबाव बनाकर सीवर और जल कर की भरपाई सीएसआर मद से करवानी चाहिए।