उत्तराखंड में चमोली जिले के गैरसैंण में चार दिवसीय कृषि उद्यान पर्यटन मेला गुरुवार से शुरू हो गया है। इस मेले का उद्घाटन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने किया।

इस बीच मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि सरकार का मकसद मेले के जरिए स्थानीय सामान को बाजार मुहैया कराना है। साथ ही पौराणिक संस्कृतिक से अगली पीढ़ी को रूबरू कराना भी है।

गैरसैंण को राजधानी बनाए जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा- राज्य सरकार का मकसद गैरसैंण का चहुमुखी विकास करना है, जिसकी बानगी गैरसैंण के भराड़ीसैंण में बनने वाला विधानसभा भवन और सचिवालय भवन के साथ ही विधायक आवास भी हैं।

जल्द ही पिंडर नदी से पंपिंग लिफ्ट के जरिए गैरसैंण में पानी की व्यवस्था बहाल की जाएगी। वहीं इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि नकारा अधिकारियों की लेटलतीफी और गलतियां बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

इस बार समय से पहले मेले का आयोजन होने व ऐन वक्त पर अर्धवार्षिक परीक्षाएं होने से स्कूली बच्चे मेले में भाग नहीं ले पा रहे हैं।