उत्तराखंड सरकार

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव का समय जैसे-जैसे करीब आ रहा है, वैसे-वैसे राज्य सरकार की सक्रियता भी बढ़ रही है। सरकार ने नौकरशाही में बड़े फेरबदल को अंजाम दिया है। 13 में से 6 जिलों के कलेक्टरों को हटा दिया गया है। उनकी जगह शासन में अपर सचिव स्तर के अफसरों को भेजा गया है।

अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, चमोली, हरिद्वार, टिहरी और उत्तरकाशी के जिलाधिकारियों को बदल दिया गया है। इनमें से पांच को प्रतीक्षा सूची में रखा गया है। खास बात यह है कि सूची तैयार होने के बाद इसे दोबारा मुख्यमंत्री हरीश रावत के पास भेजा गया।

मुख्य सचिव राकेश शर्मा ने सोमवार शाम आईएएस अफसरों के तबादले की सूची फाइनल कर दी थी। देर शाम तक सूची जारी होने की संभावना थी। लेकिन अचानक कार्मिक विभाग ने लिस्ट जारी करने के बजाय इसे रोक दिया। कहा जा रहा है सूची जारी होने में देरी के पीछे मुख्यमंत्री कार्यालय के तात्कालिक दिशा-निर्देश माने जा रहे हैं, जिसके चलते तबादले की फाइल राज्य अतिथिगृह बीजापुर भेजी गई।

सियासी हवाओं में जिन नौकरशाहों के तबादले की चर्चाएं तैर रही हैं उनमें हरिद्वार के जिलाधिकारी हरीश चंद्र सेमवाल पहले नंबर पर हैं। सेमवाल की जगह हरबंस चुघ को डीएम बनाया जा रहा है। टिहरी की नई डीएम ज्योति नीरज खेरवाल को बनाए जाने की चर्चा है तो लंबे समय से शासन में रहे आईएएस विनय शंकर पांडेय को उत्तरकाशी का डीएम बनाकर भेजा जा रहा है।

अल्मोड़ा जनपद की कमान सविन बंसल को सौंपी जा रही है, जबकि चमोली का डीएम विनोद कुमार सुमन को बनाया जा रहा है। कहा जा रहा है कि पिथौरागढ़ के नए डीएम अतुल गुप्ता होंगे। टिहरी के डीएम युग किशोर पंत, चमोली के डीएम अशोक कुमार, हरिद्वार के हरीश चंद्र सेमवाल और उत्तरकाशी के डीएम इंदुधर बौड़ाई को शासन में भेजा गया है। चर्चा है कि इन सभी नौकरशाहों को प्रतीक्षा सूची में रखा गया है।