सांकेतिक तस्वीर

धार्मिक नगरी हरिद्वार के कनखल इलाके में खुलेआम अधर्म का खेल चल रहा है। यहां के गणपति धाम फेज तीन में एक घर में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हो गया। पुलिस के हत्थे यहां से दो कॉल गर्ल और दो एजेंट भी चढ़े।

घर से शक्तिवर्द्धक दवाईयां और कई अन्य आपत्तिजनक चीजें भी हाथ लगी हैं। पिछले कुछ समय से पुलिस को यहां से सेक्स रैकेट चलाए जाने की खबरें मिल रही थीं। शनिवार देर रात सीओ सिटी चंद्रमोहन सिंह, एसओ कनखल रितेश शाह एवं मानव तस्करी निरोधक दस्ते के एसआई राकेश भट्ट की अगुवाई में पुलिस ने गणपति धाम फेज तीन में एक घर में छापा मारा।

पुलिस ने मौके से सेक्स रैकेट में शामिल दो कॉल गर्ल को दबोचते हुए उनके दो एजेंट भी धर दबोचे। सीओ सिटी चंद्रमोहन सिंह नेगी ने बताया कि एजेंटों के नाम शंभूदास उर्फ सैम पुत्र गौड़ हरिदास निवासी नई बस्ती गुसांई गली खड़खड़ी, नितिन पाल पुत्र ओमप्रकाश निवासी शारदानगर रामधाम कॉलोनी रानीपुर है।

बिजनौर और पटियाला की कॉलगर्ल्स

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

सीओ सिटी ने बताया कि एक महिला बिजनौर के मोहल्ला खतियान और दूसरी पंजाब के पटियाला जिले की रहने वाली है। सीओ सिटी चंद्रमोहन सिंह की ओर से सभी के खिलाफ देह व्यापार एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उन्होंने बताया कि महिला की 12 साल पहले शादी हुई थी।

मूलरूप से पश्चिम बंगाल के रहने शंभूदास को सेक्स रैकेट की दुनिया में सब सैम के नाम से जाना जाता है। हरकी पैडी पर कभी फूल के ठेकेदार के यहां दिहाड़ी मजदूरी करने वाले सैम ने ज्वालापुर के रहने वाले अपने दोस्त राहुल के साथ मिलकर इस धंधे में कदम रखा।

वेबसाइट भी बनाई हुई है

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

सेक्स रैकेट के धंधे को चलाने लिए उसने हाईटेक तरीका अपनाया। दिल्ली पहुंचकर रोहित नाम के युवक से मिलकर अपनी वेबसाइट बनवाई। उसके जेहन में बिलकुल भी खौफ नहीं था, यह इससे ही पता चलता है कि उसने अपना मोबाइल फोन नंबर तक लिखा हुआ है। उसका सहकर्मी नितिन कॉलगर्ल को ग्राहक के पास छोड़ने का काम करता था।

जिस घर में सेक्स रैकेट संचालित हो रहा था, उस मकान के मालिक के खिलाफ भी पुलिस एक्ट के तहत कार्रवाई होनी तय है। एसओ रितेश शाह ने बताया कि मकान सैम ने किराये पर लिया हुआ था और मकान मालिक ने सत्यापन नहीं कराया था। इसलिए पुलिस एक्ट के तहत कार्रवाई होगी।