नैनीताल जिले में रामनगर के ढेला गांव में सोमवार को बाघ के हमले में घायल हुई महिला ने मंगलवार को दम तोड़ दिया। इस घटना से गुस्‍साए ग्रामीणों ने मंगलवार को कॉर्बेट पार्क को ताला लगाकर बंद कर दिया।

ग्रामीणों की मांग है कि बाघ को तुरंत पकड़ कर उसे यहां से हटाया जाए। ग्रामीण गणेश नेगी ने बताया कि इस बाघ को पकड़कर चिडि़याघर ले जाया जाए या गोली मार दी जाए।

उन्होंने कहा कि कॉर्बेट के चलते ग्रामीणों को कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए पार्क प्रशासन को भी चाहिए कि उन्‍हें भी लाभांश (मुनाफे का हिस्‍सा) दिया जाए। साथ ही गांव के कुछ लोगों को जिप्सी के परमिट दिए जाए। गांव के बेरोजगार युवाओं को नेचर गाइड बनाकर रोजगार दिया जाए।

कॉर्बेट पार्क के अचानक इस तरह से बंद होने पर पर्यटक खासे मायूस दिखे। पार्क के एसडीओ रमाकांत तिवारी ने बताया कि घटनास्थल पर पिंजरा लगा दिया गया है। पिंजरा लगाए गए स्थानों में कैमरा ट्रैप भी लगाए गए हैं, जिससे कि हमलावर बाघ की पहचान हो सके।

उन्होंने कहा कि पुराने कैमरा ट्रैप के बाघों के चित्रों को अब कैमरे में ट्रैप होने वाले बाघ से मिलान कर सही हमलावर की पहचान की जाएगी, जिससे कि हमलावर बाघ को पकड़ा जा सके। उन्होंने आगे बताया कि ग्रामीणों की सुरक्षा के लिए क्षेत्र में गश्त बढ़ा दी गई है। साथ ही ग्रामीणों से अपील की गई है कि वह अभी कुछ दिनों तक जंगल में ना जाएं।