पिथौरागढ़ : खाई में गिरी जीप, तीन ने अस्पताल में दम तोडा, मृतकों की संख्या 5 हुई

धारचूला से पिथौरागढ़ जा रही एक मैक्स जीप सतगड़ के पास अनियंत्रित होकर गहरी खाई में जा गिरी। इस दर्दनाक हादसे में पांच लोगों की मौत हो गई है। दो लोगों ने तो मौके पर ही दम तोड़ दिया, जबकि तीन लोगों की मौत जिला अस्पताल में इलाज के दौरान हो गई।

गंभीर रूप से घायल छह लोगों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। थानाध्यक्ष के अनुसार जीप ड्राइवर कमल ने सड़क क्षतिग्रस्त होने को हादसे का कारण बताया है। रविवार शाम करीब पांच बजे यह जीप कनालीछीना से चार किमी दूर सतगड़ पौड़ीखाला नामक स्थान के पास करीब 150 मीटर खाई में गिर गई।

हादसे की खबर मिलते ही स्थानीय लोगों और पुलिस ने घायलों को खाई निकाला। जीप में 11 लोग सवार थे। थानाध्यक्ष नरेंद्र सिंह ने बताया कि मरने वालों में दो लोग मजदूर लग रहे हैं।

एक की जेब से त्रिपाली पुत्र पच्ची निवासी भुमरेला सूरमा तहसील पलिया लखीमपुर खीरी का पहचान पत्र मिला है। उसकी उम्र 45 साल के करीब लग रही है। दूसरे की पहचान नहीं हो पाई है। वह नेपाली मजदूर लग रहा है। उसकी उम्र भी करीब 40-45 साल रही होगी।

वहीं, जिन तीन लोगों की जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हुई है उनमें बसंत जोशी (57) पुत्र कृष्णानंद जोशी निवासी मड़ हाल निवासी लुंठ्यूड़ा, दशरथी दरियाल (30) पत्नी दानी दरियाल निवासी धारचूला और नंदलाल (41) निवासी लखीमपुर खीरी हैं। थानाध्यक्ष के अनुसार जीप ड्राइवर कमल ने सड़क क्षतिग्रस्त होने को हादसे का कारण बताया है।

जिला अस्पताल में भर्ती घायलों में मनोज दताल (30) निवासी जौलजीबी, लिप्टन (29) निवासी लखीमपुर खीरी, दयाल सिंह रायपा (42) निवासी धारचूला, सुनीता देवी (48) निवासी कालिका धारचूला, रूमा आगरे (22) निवासी धारचूला और जीप ड्राइवर कमल बोरा (35) निवासी रई शामिल हैं।

दुर्घटना की खबर मिलते ही मुख्यमंत्री हरीश रावत के पुत्र वीरेंद्र रावत जिला अस्पताल पहुंचे और घायलों का हालचाल जाना। जिलाधिकारी सुशील कुमार, एसपी रोशन लाल शर्मा, कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुकेश पंत समेत भारी संख्या में लोग देर शाम को जिला अस्पताल में जमा हो गए। घायलों में कुछ की हालत गंभीर बताई गई है।