ग्रेटर नोएडा।… दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने शनिवार को दावा किया कि उन्हें दादरी के बिसाहड़ा गांव जाने से रोक दिया गया, जहां हाल में गोमांस खाने की अफवाहों को लेकर भीड़ ने कथित रूप से एक व्यक्ति की हत्या कर दी थी।

आम आदमी पार्टी के नेता ने सवाल किया कि जब असदुद्दीन ओवैसी और महेश शर्मा जैसे नेताओं को वहां जाने दिया गया तो उन्हें शोकसंतप्त परिवार से मिलने से क्यों रोका गया? AAP के दूसरे नेताओं कुमार विश्वास और संजय सिंह के साथ गए केजरीवाल ने कहा कि स्थानीय लोगों द्वारा लोगों के गांव का दौरा करने के खिलाफ प्रदर्शन करने के बाद उन्हें गांव के बाहर रोक दिया गया।

उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘हमें पुलिस और प्रशासन ने रोक दिया। महेश शर्मा और ओवैसी को शुक्रवार को नहीं रोका था। फिर मुझे क्यों? मैं सबसे शांतिप्रिय हूं। केवल अखलाक के परिवार से मिलना चाहता हूं।’ कल एआईएमआईएम के नेता ओवैसी ने मृतक मोहम्मद अखलाक के परिवार को सांत्वना देने के लिए गांव का दौरा किया था और ‘पूर्व नियोजित हत्या’ पर प्रधानमंत्री की चुप्पी पर सवाल किया था।