नई दिल्ली।… दिग्गज खेल प्रशासक और विदर्भ के कद्दावर वकील शशांक मनोहर का भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का अगला अध्यक्ष बनना तय हो गया है। बीसीसीआई के मौजूदा सचिव अनुराग ठाकुर ने मंगलवार को इसकी पुष्टि की। ठाकुर ने कहा कि शशांक मनोहर अध्यक्ष पद के अकेले उम्मीदवार होंगे और उनका चुना जाना तय है।

ठाकुर ने कहा, ‘चार अक्टूबर को मुम्बई में बीसीसीआई की एजीएम की बैठक होगी। उसी बैठक में अध्यक्ष का चयन किया जाएगा। वह इस पद पर अकेले उम्मीदवार होंगे।’

पूर्व अध्यक्ष और आईसीसी के चेयरमैन एन. श्रीनिवासन मुम्बई में होने वाली एजीएम में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। ठाकुर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने श्रीनिवासन को वर्किंग कमेटी की बैठक में हिस्सा लेने की इजाजत दी थी। एजीएम में उन्हें हिस्सा लेने की अनुमति नहीं है।

ठाकुर और पूर्व अघ्यक्ष शरद पवार गुट ने मरहूम जगमोहन डालमिया का स्थान लेने के लिए शशांक के नाम पर सहमति जताई है। बीते रविवार को डालमिया का निधन हो गया था। वह 75 साल के थे। ईमानदार छवि वाले विदर्भ के वकील शशांक मनोहर इससे पहले 2008 से 2011 तक बीसीसीआई प्रमुख रह चुके हैं। बाद में एन. श्रीनिवासन ने उनका स्थान लिया था।

शशांक मनोहर को उनकी साफ छवि के लिए जाना जाता है। वह क्रिकेट में भ्रष्टाचार को लेकर बिल्कुल कड़ा रुख रखते हैं और कई मौकों पर उन्होंने श्रीनिवासन की भी आलोचना की थी।