ऋषिकेश।… प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आध्यात्मिक गुरु स्वामी दयानंद गिरि का निधन हो गया है। यह दुखद खबर ऐसे वक्त पर आई है, जब पीएम मोदी 6 दिन की विदेश यात्रा पर हैं। जानकारी के मुताबिक देर रात तकरीबन 10 बजकर 20 मिनट पर स्वामी दयानंद गिरि ने अंतिम सांस ली।

स्वामी जी का ऋषिकेश स्थित अपने आश्रम में ही निधन हुआ। शुक्रवार को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। वह काफी दिन से बीमार चल रहे थे। स्वामी दयानंद गिरि काफी दिन से देहारादून के जॉली ग्रांट अस्पताल में भर्ती थे।

इससे पहले डॉक्टरों ने बुधवार सुबह उन्हें अस्पताल से वापस लौटा दिया था। बुधवार सुबह स्वामी दयानंद की शिष्या ब्रह्मप्रकाशानंद ने मीडिया को बताया कि स्वामी के स्वास्‍थ्य में लगातार गिरावट दर्ज की गई, जिस कारण जौलीग्रांट स्थित हिमालयन अस्पताल के डॉक्टरों ने जवाब दे दिया।

ब्रह्मप्रकाशानंद ने बताया कि स्वामी दयानंद की आखिरी इच्छा है कि उनके प्राण गंगा नदी के किनारे निकलें। इसलिए उन्हें आश्रम वापस लाया गया है।

बता दें काफी समय से बीमार चल रहे गुरु दयानंद गिरि की कुशलक्षेम जानने के लिए बीते 11 सितंबर को पीएम मोदी ऋषिकेश के मुनि की रेती स्थित शीशमझाड़ी आए थे। इसके बाद तबियत बिगड़ने पर उन्हें 13 सितंबर को जौलीग्रांट स्थित हिमालयन अस्पताल में भर्ती कराया गया, उसके बाद से वह करीब नौ दिनों से अस्पताल में भर्ती थे।

उधर, मंगलवार को स्वामी दयानंद गिरि की हालत स्थिर बताई गई ‌थी। हिमालयन अस्पताल में आईसीयू में इलाज चल रहा था। डॉक्टरों ने ब्लड प्रेशर सामान्य होने तक उन्हें अस्पताल में भर्ती रखने की बात कही थी।

मंगलवार को ही उनका हालचाल जानने के लिए दक्षिण भारत के सुपरस्टार रजनीकांत के आने का कार्यक्रम बी था, लेकिन अपरिहार्य कारणों से उनका दौरा टल गया। इससे उनसे मिलने को आतुर प्रशंसकों को भी मायूस होना पड़ा।