मौसम विभाग ने कहा है कि दक्षिण पश्चिम मानसून की गतिविधि बढ़ने से देश के कई हिस्सों में अगले तीन चार दिनों में अच्छी बारिश होगी जो कई क्षेत्रों में राहत का सौगात लेकर आएगी। वे क्षेत्र पानी की घोर किल्लत का सामना कर रहे हैं।

मौसम विभाग के महानिदेशक लक्ष्मण सिंह राठौड़ ने बताया कि देश के दोनों ओर सकुर्लेशन है। पूर्वी ओर कम दबाव का क्षेत्र उत्तर गुजरात और राजस्थान के ऊपर बना हुआ। एक और निम्न दबाव का क्षेत्र झारखंड के उपर और पश्चिम बंगाल एवं बिहार के गंगाई मैदान से लगे इलाकों के उपर बना हुआ है। यह 23 सितंबर तक अच्छी मात्रा में बारिश लाएगा।

monsoon2
दिलचस्प है कि मानसून की गतिविधि नए सिरे से बढ़ने के चलते मानसून के लौटने की प्रक्रिया कुछ समय के लिए थम गई है। मौसम विभाग ने बताया कि सितंबर का महीना दक्षिण पश्चिम मानसून का आखिरी महीना होता है। राठौड़ ने कहा कि 23 सितंबर तक अच्छी बारिश होगी, लेकिन उसके बाद देश के कई हिस्सों से मानसून का तेजी से लौटना शुरू हो जाएगा।

monsoon

मौसम विभाग ने बताया कि 22 सितंबर को बिहार, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा और पूर्वी एवं पश्चिमी राजस्थान में छिट पुट स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।