उत्तराखंड में नेपाल और चीन बॉर्डर से लगे पिथौरागढ़ जिले के मुख्यालय को सीसीटीवी कैमरों से लैस कर दिया गया है। बता दें कि सीसीटीवी कैमरों की पहुंच में होने वाला पिथौरागढ़ उत्तराखंड का पहला शहर बन गया है। इस काम को अंजाम देने में स्थानीय विधायक मयूख महर का बड़ा योगदान रहा है।

विधायक महर ने पूरे शहर में सीसीटीवी कैमरे लगाने के लिए अपनी विधायक निधि से 30 लाख रुपये दिए हैं। पुलिस अधीक्षक कार्यालय में सीसीटीवी कैमरे का कंट्रोल रूम बनाया गया है, जहां चौबीसों घंटे 2 पुलिसकर्मी पूरे नगर के हालात पर नजर रखेंगे।

pithoragarh
विधायक मयूख महर ने कंट्रोल रूम का उद्घाटन करते हुए कहा कि पिथौरागढ़ शहर देश के सबसे सुंदर शहरों में एक है। अब सीसीटीवी कैमरों से लैस होने के बाद ये राज्य का सबसे सुरक्षित शहर भी बन जाएगा।

महर ने बताया कि जल्द ही वो अपने विधायक फंड की मदद से सीसीटीवी कैमरे के दायरे को बढाएंगे और नगर के आसपास के इलाकों को भी इससे जोड़ा जाएगा। पिथौरागढ़ शहर में पहले चरण में 45 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं।

pithoragarh_town

पुलिस अधीक्षक रोशन लाल शर्मा का कहना है कि शहर के सीसीटीवी में कैद होने से पुलिस को सबसे ज्यादा मदद मिली है। यातायात, मारपीट, अवैध खनन के साथ ही असमाजिक तत्वों पर अब आसानी से लगाम लग पाएगी। एसपी ने सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के लिए विधायक महर का भी आभार जताया।