अल्मोड़ा जिले के स्याल्दे में हुआ मनरेगा घोटाले का मामला अब नैनीताल हाईकोर्ट में पहुंच गया है। कोर्ट ने इस मामले में सरकार को एक हफ्ते में स्थिति साफ करने के निर्देश दिए हैं।

स्याल्दे निवासी देव सिंह ने इस संबंध में जनहित याचिका दायर की थी। याचिकाकर्ता ने मनरेगा में हुए वित्तीय अनियमितताओं के लिए दोषी अधिकारी और प्रधान पर कार्रवाई करने के साथ ही वित्तीय अधिकारों को भी सीज करने की मांग की है।

याचिका में यह भी कहा गया है कि प्रधान ने अपने और अपनी पत्नी के नाम पर मनरेगा के चेक भुना लिए थे।