खुदाई करके पुरानी चीजों को खोजने और उनके संरक्षण की जिम्मेदारी भारत में पुरातत्व विभाग के पास है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कही बात पर विश्वास किया जाए तो वो दिन दूर नहीं जब 125 साल पुरानी कांग्रेस को खोजने के लिए पुरातत्व विभाग को लगाने की जरूरत पड़ेगी।

शुक्रवार को तीर्थनगरी ऋषिकेश पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। तीर्थनगरी में पीएम मोदी बहुत कम समय के लिए जनता से रूबरू हुए, लेकिन उन्होंने मानसून सत्र में कांग्रेस द्वारा किए हंगामे पर खूब भड़ास निकाली। उन्होंने कहा ‌कि अगर कांग्रेस का यही रवैया रहा तो इस 125 साल पुरानी पार्टी को पुरातत्व विभाग खोजेगा।

25 मिनट के अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कांग्रेस पर नकारात्मक राजनीति करने के आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि नकारात्मक रवैये के कारण ही आज कांग्रेस विलुप्त हो गई है और उसे हर जगह हार का सामना करना पड़ रहा है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैंने अपना हर पल जनता को समर्पित किया है, लेकिन विपक्ष में बैठी पार्टी जनता के विकास में बाधक बन रही है। कांग्रेस की नकारात्मक राजनीति से लोकतंत्र का नुकसान हो रहा है।

पीएम मोदी ने अपने संबोधन में जहां एक ओर अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाई, वहीं कांग्रेस को खरी-खोटी सुनाने से भी पीछे नहीं रहे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को करारी हार के बाद विपक्ष में बैठना पसंद नहीं आ रहा है। इसी का परिणाम है कि कांग्रेस अब नकारात्मक राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि हम केवल काम करते हैं, हमें बाते बनाना नहीं आता, इसी का नतीजा है कि आज हम देश की जनता के दिल में हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि जिस प्रकार की राजनीति अब कांग्रेस कर रही है वह जनता का विकास रोक रही है। विकास की राह में रोड़े अटका कर कांग्रेस अपनी हार का बदला जनता से ले रही है। अगर कांग्रेस का यही रवैया रहा तो इस 125 साल पुरानी पार्टी को पुरातत्व विभाग खोजेगा।