कार्यक्रम था ‘आओ कांग्रेस से जुड़ें’, लेकिन बुलावा नहीं मिलने से कांग्रेसी ही नाराज

उत्तराखंड में कांग्रेस नेता ज्यादा से ज्यादा लोगों को पार्टी से जोड़ने की मुहिम में जुटे हुए हैं। लेकिन इस मुहिम पर उनके अपने ही कुछ नेता बट्टा भी लगा रहे हैं। भेल के शिवालिक नगर में बुधवार को ‘आओ कांग्रेस से जुड़ें’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया, लेकिन इस कार्यक्रम में स्थानीय कांग्रेसी नेताओं को आमंत्रित न किए जाने से भेल के कांग्रेस नेताओं में भारी आक्रोश दिखा।

इसके विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम का बहिष्कार कर कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी और मुख्यमंत्री की पत्नी को रास्ते में ही रोक अपना विरोध प्रदर्शित किया।

बताया गया है कि कार्यकर्ताओं ने अयोजकों पर लाभ लेने के आरोप लगाए। शिवालिक नगर में स्वास्थ्य मंत्री नेगी और रेणुका रावत की गाड़ी रोककर कार्यकर्ताओं ने उन्हें आपनी नाराजगी से अवगत कराया। इन कार्यकर्ताओं में अधिकतर वे लोग हैं जिन्होंने भेल में कांग्रेस को ज़िंदा रखा हुआ है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का अरोप है कि ईमानदार कार्यकर्ताओं की अनेदखी हो रही है। खराब छवि वाले कई लोग भी यहां पार्टी में शामिल हो रहे हैं। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चेतावनी दी कि यदि ऐसा ही चलता रहा तो कांग्रेस कार्यकर्ता पार्टी से इस्तीफा देकर घर बैठ जाएंगे।

करीब आधे घंटे तक रास्ते में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का गुस्सा झेलने के बाद कार्यक्रम में पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री और रेणुका रावत मीडिया के सामने किसी तरह का विरोध किए जाने की बात को सिरे से ही नकार गए।

उनका कहना था कि वे लोग वहां उनका स्वागत करने के लिए ही खड़े थे। कार्यकर्ताओं के आरोप की बाबत रेणुका रावत ने कहा कि जिस व्यक्ति पर आरोप लग रहे हैं उसके खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं है।

जबकि कई कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि अकेले रानीपुर थाने में ही खराब छवि वाले व्यक्ति के खिलाफ कई मामले दर्ज हैं।