नैनीताल : अब बीमार ग्रामीणों का घर पर ही इलाज करेगा मोबाइल अस्पताल

भीमताल।… सुदूरवर्ती ग्रामीण क्षेत्रों के बीमार ग्रामीणों को अब इलाज के लिए कई किलोमीटर पैदल चलकर शहर के महंगे अस्पतालों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। अब ग्रामीणों को घर के पास ही शहरी अस्पताल की सुविधा मिलेगी।

बेतालघाट और ओखलकांडा विकास खंड में एक हफ्ते के भीतर आधुनिक स्वास्थ्य सुविधाओं से लैस राष्ट्रीय सचल चिकित्सा वाहन (मोबाइल अस्पताल) की सेवा शुरू हो जाएगी।

अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस वाहन में एक एमबीबीएस डॉक्टर, एक एएनएम, एक फार्मासिस्ट और एक लैब टेकनीशियन की नियुक्ति होगी। वाहन में प्रारंभिक जांच के लिए एक लैब भी स्थापित की गई है। वाहन महीने में 22 दिन के लिए सुदूरवर्ती क्षेत्रों में जाएगा और दोनों विकासखंड में 11-11 दिनों की सेवा देगा।

वाहन में तैनात डॉक्टर ज्यादा गंभीर रोगी को रेफर भी कर पाएगा। वर्तमान में पर्वतीय क्षेत्रों के कई अस्पतालों में डॉक्टरों की भारी कमी है। जिसके कारण इलाज के लिए ग्रामीणों को कई किमी पैदल चलकर शहर जाना पड़ता है।

मोबाइल अस्पताल के प्रदेश समन्वयक अरुण पोखरियाल के अनुसार वाहन में गर्भवती महिलाओं की प्रारंभिक जांच के साथ ही ब्लड टेस्ट भी सुविधा उपलब्ध रहेगी।