नई दिल्ली।… त्योहारों का सीजन आने को है और इससे पहले ही केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों को तोहफा दे दिया है। सरकार ने केंद्रीयकर्मियों के महंगाई भत्ते (डीए) में छह प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दी है।

बिहार चुनाव के ऐलान से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में सरकारी कर्मचारियों के डीए को 113 फीसदी से बढ़ाकर 119 फीसदी करने का फैसला लिया गया।

यह निर्णय एक जुलाई 2015 से प्रभावी होगा। इससे लगभग 50 लाख केंद्रीय कर्मचारी और 56 लाख पेंशनभोगी लाभान्वित होंगे। हालांकि इससे सरकारी खजाने के बोझ में जबरदस्त इजाफा भी होगा।

छठे केंद्रीय वेतन आयोग की सिफारिशों पर आधारित इस फैसले से सरकारी कर्मचारियों को महंगाई से राहत मिल पाएगी। महंगाई भत्ते में वृद्धि से सरकार पर हर साल 6655.14 करोड़ रुपये का बोझ बढ़ेगा। वहीं इस वजह से मौजूदा वित्त वर्ष में जुलाई 2015 से फरवरी 2016 तक आठ माह में 4436.76 करोड़ रुपये के बोझ की गणना की गई है।

माना जा रहा है कि इस इजाफे का परोक्ष असर भी आम जनता पर पड़ेगा। इससे पहले केंद्र ने अप्रैल में छह फीसदी डीए बढ़ाया था, जो जनवरी से लागू हुआ था।