कॉर्बेट नगरी रामनगर में पानी के लिए हाहाकार, कोई सुध लेने वाला नहीं

कॉर्बेट नगरी रामनगर में गर्मी के इन दिनों में पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। यहां के अधिकांश इलाकों में करीब महीने भर से पानी का संकट बना हुआ है। लोगों को पानी को लेकर काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।

समस्या के समाधान के लिए लोग संस्थान के कार्यालय में भी चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन समस्या का कोई समाधान नहीं हो पा रहा है। पंपापुरी के लोगों का कहना है कि बुजुर्गों को दूर-दूर से पानी ढोना पड़ रहा है। यहां के निवासियों का कहना है कि उनका सारा समय पानी का जुगाड़ करने में खत्म हो रहा है। इसकी वजह से वह अपने बच्चों का भी ध्यान नहीं रख पा रहे हैं।

लखनपुर-रानीखेत रोड पर भी पानी की बड़ी किल्लत है, यहां के लोगों का कहना है कि अगस्त के महीने से पानी की सप्लाई बाधित हुई है और आजतक सप्लाई सुचारू नहीं हो पाई है।

पानी के लिए उन्हें घंटों लाइन में लगकर इंतजार करना पड़ रहा है। यहां के विपिन विहार, कोटद्वार रोड, लखनपुर, रानीखेत रोड, पंपापुरी में पानी की खासी दिक्कत हो रही है। लोगों को अपने अन्य काम छोड़कर पानी के जुगाड़ में लगे रहना पड़ता है। यहां जलापूर्ति विभाग के प्रति लोगों में खासा आक्रोश है।

वहीं संस्थान के एग्जक्यूटिव इंजीनियर पीके त्यागी का कहना है कि एडीबी के कार्य के चलते लखनपुर स्थित पानी की टंकी को तोड़ दिया गया है, जिससे पानी की सप्लाई में परेशानी हो रही है, क्योंकि अब पानी स्टोर करने के लिए टंकी नहीं है और इसलिए सीधे सप्लाई देनी पड़ रही है। इसमें भी परेशानी ये है कि नगर में घंटों की अघोषित बिजली कटौती की जा रही है, जिसके चलते भी पानी की सप्लाई में खासा असर पड़ रहा है।