पौड़ी ज‌िले के भाबर क्षेत्र में नाबालिग विवाहिता की शिकायत पर जांच के बाद कोतवाली पुलिस ने मायके और ससुराल पक्ष के पांच लोगों के गंभीर धाराओं में शिकायत दर्ज की है। दोनों पक्षों पर किशोरी को बेचने और बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पुलिस ने बताया कि किशोरी की मां, सौतेले बाप, पति, पति के चाचा और मां के खिलाफ जांच शुरू कर दी गई है। इससे पहले पुलिस ने महिला समाख्या पहुंचकर किशोरी के बयान दर्ज किए।

पुलिस उपनिरीक्षक मुकेश कुमार ने बताया कि भाबर के एक गांव की राधा (काल्पनिक) ने अपनी मां और सौतले पिता पर उसे धामपुर निवासी एक परिवार को दो लाख रुपये में बेचने का आरोप लगाते हुए शिकायत दी थी।

नाबालिग विवाहिता के बयान दर्ज किए गए हैं। उसने शिकायत में लिखी गई बातों की पुष्टि की है। किशोरी ने अपनी उम्र केवल पंद्रह साल बताई है। इसकी पुष्टि में उसने स्कूल का सर्टिफिकेट भी लगाया है।

किशोरी ने बताया कि उसकी मां और सौतेले बाप ने उसकी मर्जी के खिलाफ पिछले साल सात दिसंबर को उसकी शादी बिजनौर के धामपुर क्षेत्र के सेखपुरा गांव में कर दी था।

शादी के दूसरे दिन से ही उसके साथ मारपीट और जोर जबरदस्ती हो रही है। उसके पति ने उसे दो लाख रुपये में खरीदने की बात कही है। लड़की ने बताया कि शादी भी धामपुर के शेखपुरा गांव की एक धर्मशाला में की गई।

पुलिस ने बताया कि ससुराल पक्ष में पति, सास और पति के चाचा के खिलाफ संबंधित धारा में मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है।