30 जुलाई को हरिद्वार के चुडियाला में कैबिनेट बैठक

प्रदेश सरकार 30 जुलाई को हरिद्वार जिले के ग्राम चुडियाला में कैबिनेट बैठक करने जा रही है। इसे लेकर प्रशासनिक अमला तैयारियों में जुट गया है। प्रदेश के मुख्यमंत्री हरीश रावत का कहना है कि हमारी सरकार गांवों की सरकार है। राजधानी से बाहर कैबिनेट की बैठक करने का मकसद गांव तक सरकार को ले जाना है। इससे आम लोगों को अपनी सरकार का अहसास होगा और जनप्रतिनिधियों को भी गांवों के हालात से रूबरू होने का मौका मिलेगा।

कैबिनेट मीटिंग की तैयारियों को लेकर मुख्य सचिव एन. रविशंकर और वरिष्ठ अधिकारियों ने चुडियाला का दौरा किया और व्यवस्थाओं की जानकारी ली। यह पहला मौका नहीं है, जब कैबिनेट की बैठक किसी गांव में होने जा रही है। इससे पहले हर की पौडी समेत कई जगहों पर कैबिनेट की बैठके हो चुकी है।

मुख्यमंत्री के निजी सचिव के स्टिंग मामले को लेकर इन दिनों प्रदेश की राजनीति में घमासान मचा हुआ है। आपदा घोटाले के बाद एक और मुद्दा सामने आने पर बीजेपी ने सत्तारूढ़ कांग्रेस पर हमला बोल दिया है। प्रदेश में जगह-जगह बीजेपी कार्यकर्ता पुतला फूंककर सरकार के मुखिया के इस्तीफे की मांग कर रही है। बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं ने इस मामले को लेकर प्रदेश के राज्यपाल से मुलाकात कर आपदा और स्टिंग दोनों ही मामलों की सीबीआई जांच और प्रदेश सरकार को बर्खास्त करने की मांग की है।